जागरणसंवाददाता,बलिया:उत्तरप्रदेशराज्यपरिवहननिगमकीबसेंमरम्मतकेअभावमेंलगातारखड़ीहोतींजारहींहैं।पिछलेदोवर्षोसेमुख्यालयसेनयापा‌र्ट्सनहींमिलरहाहै।यात्राकेदौरानबसेंकहींभीखराबहोजारहींहैं।एकदर्जनबसेंवर्कशापमेंलंबेसमयसेखड़ींहैं।उनबसोंमेंसेभीकईपा‌र्ट्सदूसरीबसोंमेंलगानेकेलिएनिकाललिएगएहैं।बलियाडिपोकमाईकेमायनेमेंआजमगढ़मंडलमेंपांचवेंस्थानपरथा।यहहरमाहकरीब2.20करोड़आयदेताहै।इसकेवावजूदयात्रियोंकोसुविधाओंकेलिएतरसनापड़रहाहै।डिपोसे82बसोंकासंचालनविभिन्नशहरोंकेलिएप्रतिदिनहोताहै।इसमें27अनुबंधितऔर55विभागीयबसेंचलतीहैं।अनुबंधितबसेंतोकुछठीकहालमेंहैं,लेकिनविभागीयबसोंकीसमय-समयपरमरम्मतनहींहोनेकेचलनेवहअबखटराहोचलींहैं।--------------------बोलयात्री-विभागकोयात्रियोंसेअच्छीआयहोनेकेबावजूदसुविधानहींमिलपारहीहै।सुविधाएंबेहतरकरनेकेप्रतिजिम्मेदारभीलापरवाहहैं।-परमात्मानंदसिंह,नरही।

--परिसरमेंगंदगीकाअंबारहै।शौचालयतकठीकनहींहै।एकघंटासेबसमेंबैठाहूं,कबखुलेगीइसकेबारेमेंकोईबतानेवालानहींहै।--शिवकुमार,व्यापारी,रसड़ा।

--बेटीकोदेवरियाकीबसपरबैठानेआयाथा।पुछताछकाउंटरपरकोईसहीजानकारीनहींदेरहा।व्यवस्थाबिगाड़नेमेंयहांकेअधिकारियोंकाहाथहै।--कमलेशकुमार,अधिवक्ता,आर्यसमाजरोड़।---------------------------कोटबसोंकीमरम्मतकेलिएविभागमेंपत्रभेजागयाहै।बसस्टेशनपरयात्रीसुविधाएंभीबहुतजल्दठीकहोंगी।जरूरतवालीसुविधाओंकेबारेमेंप्रस्तावभेजागयाहै।धनस्वीकृतहोतेहीकईकार्यएकसाथहोंगे।--राकेशश्रीवास्तव,प्रभारीएआरएम,बलियाडिपो

By Evans