संवादसहयोगी,मसूरी।UttarakhandTourismखुलाआसमान,वातावरणमेंपसरीकोहरेकीचादरऔरमंद-मंदबहतीशीतलबयार।ऐसेमेंअकेलेयासाथीसंगमसूरीकीमालरोडपरटहलतेहुएअथवाकिसीबेंचपरबैठेहुएभुट्टेखानेकामजाहीकुछऔरहै।आपकिसीभीमौसममेंमसूरीआइए,मालरोडपरभुट्टेकीमहकमनकोप्रफुल्लितकरदेगी।

पहाड़ोंकीरानीमसूरीकेलाइब्रेरीचौक,आंबेडकरचौकसेमालरोड,झूलाघर,कुलड़ीबाजार,पिक्चरपैलेस,लंढौर,लालटिब्बा,कंपनीगार्डन,कैमल्सबैकरोड,कैम्पटीफालआदिस्थानोंपरहरमौसममेंसौसेअधिकलोगभुट्टेबेचतेमिलजातेहैं।भुट्टेहीउनकीआयकामुख्यस्रोतहैं।लेकिन,बीतेवर्षकोरोनासंक्रमणकेचलतेहुएलाकडाउनऔरइसवर्षकोविडकर्फ्यूकेकारणवेपटरीपरबैठभुट्टेनहीबेचपाए।हालांकि,अबकोविडकर्फ्यूमेंछूटकेबादधीरे-धीरेउन्होंनेपटरीपरकारोबारशुरूकरदियाहै।

मालरोडपरभुट्टेबेचनेवालीमधुनेबतायाकिइनदिनोंभुट्टेदक्षिणराज्योंसेआरहेहैं।अगस्तमेंआसपासकेगांवोंआर्गेनिकभुट्टेआनेलगेंगे।बतायाकिकच्चेभुट्टे40से50रुपयेप्रतिकिलोकेहिसाबसेआतेहैं।एककिलोमेंतीनसेचारभुट्टेचढ़तेहैं।इन्हेंआगपरभूननेयापानीमेंउबालनेकेबाद50रुपयेप्रतिभुट्टेकेहिसाबसेबेचाजाताहै।वीकएंडपरभीड़ज्यादाहोतो25से40औरसामान्यदिनोंमें20से25भुट्टेरोजानाबिकजातेहैं।

मधुनेबतायाकिपूर्वमुख्यमंत्रीहरीशरावतजबभीमसूरीयाकैम्पटीफालआतेहैं,मालरोडपरभुट्टेजरूरखातेहैं।इतनाहीनहीं,वेअपनेसाथआनेवालोंकोभीभुट्टेखिलातेहैं।हालांकि,सीजनमेंनगरपालिकायास्थानीयप्रशासनउन्हेंमालरोडपरनहींबैठनेदेते।इससेभुट्टेबेचनेवालोंकोघरबैठनापड़ताहै।

By Douglas