मुरादाबाद,जागरणसंवाददाता।जिलेकी643ग्रामपंचायतोंमेंविकासकार्यकरानेकेलिएशासनने17करोड़रुपयेसेअधिककीधनराशिजारीकरदीहै।इसधनराशिसेग्रामीणक्षेत्रोंमेंविकासकाकामशुरूहोगयाहै।कुछप्रधानोंनेअभीसेधनराशिखातोंसेनिकालकरबंदरबांटकरनाशुरूकरदियाहै।ग्रामपंचायतविकासअधिकारीभीप्रधानोंसेसाठगांठकरकेअपनेहितकोसाधनेमेंलगेहैं।इसीकेसाथविरोधियोंनेशिकायतेंभीशुरूकरदीहैं।

मुरादाबादमेंग्रामपंचायतोंकेगठनकेबादसरकारसेविकासकेलिएमिलनेवालीधनराशिआनीशुरूहोगईहै।पहलीकिस्तमें15वेंवित्तआयोगसे12करोड़37लाखपांचहजार47रुपयेमिलेहैं।पंचमवित्तआयोगसेचारकरोड़71लाख25हजार221रुपयेसेमिलेहैं।इसतरहपहलीकिस्तमेंदोनोंहीमदोंसे17करोड़आठलाखतीसहजार267रुपयेमिलेहैं।जिनग्रामपंचायतोंकेप्रधानोंऔरसचिवोंकेसंयुक्तहस्ताक्षरवालेडोंगलतैयारहोचुकेहैं।उन्होंनेग्रामनिधिकेखातोंसेधनराशिनिकालकरखर्चकरनीशुरूकरदीहै।कोरोनासंक्रमणसेबचावकेनामपरभीधनराशिखर्चहोरहीहै।इसकेअलावाकुछप्रधानोंनेपुरानेभुगतानभीकरनेशुरूकरदिएहैं।जिलापंचायतराजअधिकारीराजेशकुमारसिंहनेबतायाकि15वेंवित्तआयोगसेमिलीधनराशिसेप्राथमिकताकेआधारपरपहलेसामुदायिकशौचालयऔरपंचायतघरोंकानिर्माणहोगा।इसकेबादविकासकेअन्यकार्योंकेलिएबनाईगईकार्ययोजनाकेमुताबिककामहोनाहै।

​​​​​यहभीपढ़ें:-

Covid19Thirdwave:मुरादाबादमेंकोरोनाकीतीसरीलहरकेल‍िएतैयार‍ियांपूरी,अस्‍पतालमेंहीरुकसकेंगेतीमारदार

लापरवाहीकीहद:एकबाइकपरसवारछहलोगट्रैकटरट्रालीसेभिड़े,दोबच्चोंसहितचारकीमौत

माटीशिल्पकारोंकोपावरचाकबांटेगीसरकार,यहांपढ़ेंक्‍याहैंन‍ियमऔरकबतककरनाहैआवेदन