नईदिल्ली-पूर्वविदेशसचिवशिवशंकरमेनननेशुक्रवारकोनागरिकतासंशोधनकानूनबनानेकेलिएकेंद्रसरकारकीजमकरखिंचाईकीहै।उन्होंनेकहाहैकिइसकेचलतेभारतनेखुदकोदुनियामें'अलग-थलग'करलियाहैऔरइसकीआलोचनाकरनेवालोंकीतादाददेशमेंऔरदेशकेबाहर'काफीलंबी'होगईहै।उन्होंनेदिल्लीकेप्रेसक्लबमेंइसविषयपरआयोजितएकचर्चामेंयेदावाकियाहै।

इसकानूनकेकथितबुरेप्रभावोंपरचर्चाकेलिएजुटेकुछविद्वानोंऔरबुद्धिजीवियोंकेबीचउन्होंनेदावाकियाकिइसकानूनकेपासहोनेकेबादभारतकोलेकरदुनियाकानजरियाबदलगयाहै।मेमनकेदावेकेमुताबिक,"इसकीवजहसेभारतनेखुदकोअलग-थलगकरलियाहैऔरअंतरराष्ट्रीयसमुदायमेंहमारेआलोचकोंकीसूचीभीअबकाफीलंबीहोगईहै।पिछलेकुछमहीनोंमेंभारतकोलेकरनजरियाबदलगयाहै।यहांतककिहमारेमित्रभीहैरानहैं।"उन्होंनेआरोपलगायाकि"हालकेवक्तमेंहमनेजोकुछभीहासिलकियावहहमारीमौलिकछविकोपाकिस्तानसेजोड़ताहै,जोएकअसहिष्णुराष्ट्रहै।"

बतादेंकिशिवशंकरमेननमनमोहनसिंहसरकारकेदौरानविदेशसचिवऔरराष्ट्रीयसुरक्षासलाहकाररहचुकेहैं।वेचीनमेंभारतीयराजदूतभीरहचुकेहैं।

पूर्वविदेशसचिवनेकहाकिदुनियाक्यासोचतीहै,यहअबहमारेलिएपहलेसेकहींज्यादामायनेरखताहैऔरहमारेपासअकेलेचलनेकाविकल्पनहींहै।उन्होंनेआरोपलगायाकि"ऐसालगताहैकिइसतरहकेकदमों(सीएए)सेकटनेऔरखुदकोअलग-थलगकरनेकीठानचुकेहैं।यहकिसीकेलिएभीअच्छानहींहै।"इतनाहीनहींउन्होंनेआरोपलगायाकि"ऐसालगताहैकिहमअंतरराष्ट्रीयनियमोंकाउल्लंघनकररहेहैं।जोयेसोचतेहैंकिअंतरराष्ट्रीयकानूनोंकोलागूनहींकरायाजासकता,उन्हेंअंतरराष्ट्रीयसंविदाओंकेउल्लंघनकर्ताओंकेसाथहोनेवालेराजनीतिकऔरदूसरेपरिणामोंकोभीध्यानमेंरखनाचाहिए।"

दिल्लीकेप्रेसक्लबमेंआयोजितइसचर्चामेंजोयाहसन,नीरजाजयालऔरफैजानमुस्तफाभीशामिलथे।

इसेभीपढ़ें-अबCAA-NRCकेखिलाफजमात-ए-इस्लामीकेकार्यक्रममेंशामिलहोंगेशिवसेनानेतासंजयराउत

By Duffy