जागरणसंवाददाता,हल्द्वानी:बढ़तासाइबरअपराधलोगोंकोकंगालकररहाहै।देश-विदेशमेंबैठेसाइबरठगनितनए-नएतरीकोंसेठगीकीघटनाओंकोअंजामदेरहेहैं।ठगोंसेबचनेकेलिएएसएसपीप्रीतिप्रियदर्शिनीनेलोगोंकोअलर्टकियाहै।बातदेंकिनैनीतालजिलेमेंदोमाहमें50सेअधिकलोगसाइबरठगीकेशिकारहुएहैं।

इंटरनेटकेदौरमेंलोगभीस्मार्टहोगएहैं।कपड़ोंसेलेकरखाद्यसामग्रीतककीऑनलाइनखरीदारीकीजारहीहै।कंपनियोंकीसहीवेबसाइटमेंजानेसेलोगोंकोठगीकाखतरानहींरहताहैलेकिनअधिकांशलोगअनजानेमेंगलतसाइटकाइस्तेमालकरबैठतेहैं।इसकाखामियाजाउन्हेंसाइबरठगीकाशिकारहोकरचुकानापड़ताहै।इनदिनोंठगीकानयामामलासामनेआयाहै।साइबरठगोंनेवेबसाइटबनाकरफर्जीकस्टमरकेयरनंबरअपलोडकियाहै।लोगोंकिसीभीतरहकीसमस्याहोनेपरइनकस्टमरकेयरनंबरपरसंपर्ककरतेहैंतोठगेजातेहैं।

इधरठगीसेबचनेकेलिएएसएसपीप्रीतिप्रियदर्शिनीनेलोगोंकोजागरूककियाहै।उनकाकहनाहैकिजागरूकताहीठगीसेबचनेकाएकमात्रउपायहै।किसीभीवेबसाइटकाकस्टमरकेयरमेंसंपर्ककरनेसेपहलेउसकीगहनपड़तालकरलें।ऑफीशियलवेबसाइटसेहीनंबरलें।किसीभीवेबसाइटकोबगैरपरखेगोपनीयजानकारीनदें।साइबरठगीहोनेपरतत्काल1552600नंबरपरसूचनादें।