मनोजनायरनईदिल्ली।।अपनीहालियाफिल्म'शेम'मेंऐक्टरऔरफिल्ममेकरस्टीवमैक्वीननेएकसेक्सएडिक्टकेबारेमेंबतायाहै।इसकीकहानीएकऐसेसेक्सएडिक्टकीहै,जोन्यूयॉर्कमेंशानदारजीवनबितारहाहै,लेकिनअपनीइसलतसेकाफीपरेशानहै।मैक्वीननेएकइंटरव्यूमेंबतायाथा,'इसलतकेशिकारलोगखुदकोअक्सरलुटाहुआबतातेहैं।'उनकेमुताबिक,अपनेशर्मकोदूरभगानेकेलिएयेफिरयहीकामकरतेहैं।येऐसेलोगहैंजोसेक्सकेबारेमेंसोचने,बातकरनेऔरइसीकेबारेमेंसपनेदेखतेतोहैं,लेकिनइसअपराधबोधसेभीग्रस्तहोतेहैं।गूगलसर्चकेहालियाट्रेंडकेमुताबिक,सेक्ससर्चकरनेवालेटॉप10शहरोंमेंसे7भारतकेहैं।इसलिस्टमेंबिहार,लखनऊऔरकोलकाताक्रमश:पहले,दूसरेऔरतीसरेनंबरपरहैं।रीजन,शहरयाभाषाकेलिहाजसेरैंकिंगकेलिएगूगलट्रेंडसबसेपहलेभाषाऔरएरियातयकरनेकेलिएसैंपलदेखतीहै।इसमेंयहदेखाजाताहैकिपहलेटर्मकेलिएसबसेज्यादाकिसचीजकीसर्चकीगई।यहांसवालयहउठताहैकिलखनऊ,कोलकाता,चेन्नैऔरपुणेमेंसेक्सकेइतनालोकप्रियहोनेकीवजहक्याहै?नामनहींछापेजानेकीशर्तपरएकमनोचिकित्सकनेबताया,'कईलोगोंकेलिएइंटरनेटगुपचुपतरीकेसेऐसीचीजेंखोजनेकामाध्यमहै,जोउन्हेंउत्तेजितकरतीहैं।'इंटरनेटकीसबसेबड़ीखूबीयहहैकिइसमेंआपअपनेझिझकऔरसंकोचपरविजयपालेतेहैं।इंटरनेटपरआपकिसीभीतरहकीसामाजिकनिंदा,भेदभाव,दंडऔरखारिजहोनेकेभयसेमुक्तहोकरअपनीमनमर्जीसेआनंदलेसकतेहैं।हालांकि,अगरआपइसकीअतिकरदेतेहैं,तोफिरआपमेंअपराधबोधआनेलगताहैऔरयहीस्टीवमैक्वीनकीफिल्ममेंभीदिखायागयाहै।वर्ल्डवाइडवेबकेऑनलाइनहोनेकेमहज6महीनेबादवेबपरतकरीबन900पोर्नोग्राफीसाइटेंवजूदमेंआगईथीं।आजऐसीसाइटोंकीतादादबढ़कर25लाखहोगईहै।'अबिलियनविकेडथॉट्स'केलेखकोंओगीओगासऔरसईगद्दामकामाननाहैकिभारतऔरपाकिस्तानजैसेदेशोंमेंपोर्नोग्राफीगैरकानूनीहैऔरइसवजहसेयहांपरइंटरनेटअसीमसंभावनाएंमुहैयाकराताहैं।हालांकि,सैद्धांतिकतौरपरयेलेखकमानतेहैंकिनेटकीदुनियामेंजानेकेलिएलोगोंकोसेक्सकेअलावाकईऔरवजहेंप्रेरितकरतीहैं,लेकिनइनइसबातसेभीइनकारनहींकियाजासकताकिनेटकेकिसीफॉर्मकोलेलें-चैट,साइट्सयाफिरब्लॉग्स,इन्हेंकहींनकहींसेक्सुअलकम्युनिकेशनकेविकल्पकेरूपमेंदेखाजाताहै।