जागरणसंवाददाता,कुरुक्षेत्र:शहरमेंस्कूलबसोंकीमनमानीनहींथमरहीहै।वेबच्चोंकीसुरक्षासेनकेवलखिलवाड़कररहेहैं,बल्किसुप्रीमकोर्टकेनिर्देशोंकाभीमखौलउड़ारहेहैं।प्रशासनकीनाकतलेयहसबकुछहोरहाहैऔरवहआंखबंदकियेबैठाहै।यहकहनाहैसर्वजातीयसर्वखापमहिलामहापंचायतकीराष्ट्रीयअध्यक्षडॉ.संतोषदहियाका।वेगुरुवारकोगांवबारवामेंदिवंगतअक्षयवीरकीमृत्युपरशोकव्यक्तकरनेकेबादशोकसंतप्तपरिजनोंसेबातकररहीथी।

बतादेंकिगांवबारवानिवासीपांचवर्षीयअक्षयवीरपुत्रकर्मवीरकिड्सएकेडमीमेंकेजीकक्षाकाछात्रथा।मंगलवारसुबहवहस्कूलकीवैनमेंबैठकरनिकलाथा,कुछदूरवैनकेआगेट्रैक्टरट्रालीआनेपरचालकनेअचानकब्रेकलगादिएऔरवैनमेंअकेलाबैठाअक्षयवीरपीछेरखीस्टेपनीसेजाटकरायाऔरगंभीररूपसेघायलहोगया।उसेकुछदेरबादएकनिजीअस्पतालमेंलायागयातोडॉक्टरोंनेजांचकेबादअक्षयवीरकोमृतघोषितकरदिया।शिकायतकेआधारपरपुलिसनेवैनचालकनफेसिंहवप्रधानाचार्यकेविरुद्धकेसदर्जकरलिया।गुरुवारकोजबप्रोफेसरसंतोषदहियाकर्मवीरकीइकलौतीसंतानअक्षयवीरकेनिधनपरशोकजतानेगांवबरवापहुंचीतोवैनमेंसहायककेनहींहोनेपरउन्होंनेभीगंभीरसवालउठाए।उन्होंनेकहाकिबच्चोंकोलानेवलेजानेकेलिएनिर्धारितवाहनोंकेपीछेस्कूलड्यूटी,स्कूलकानामवदूरभाषनंबरलिखाहोनाचाहिए।इनवाहनोंकारंगभीपीलाहोनाचाहिए।स्कूलीवाहनोंमेंएकदेखभालकरनेवालाअटेंडेंटहोनाअनिवार्यहै।गतिसीमाकापालनसुनिश्चितहो।क्षमतासेअधिकबच्चेनहींबिठाएजानेचाहिए।फ‌र्स्टएडबॉक्सवअग्निशमनयंत्रअनिवार्यरूपसेउपलब्धहोनाचाहिए।उनकेअनुसारस्कूलबसोंमेंसुप्रीमकोर्टकेमानदंडोंकोपूरानहींकरनेवालेसंचालकोंपरकठोरतमकार्रवाईहोनीचाहिए।शोकजतानेवालोंमेंरघुबीरसिंह,राजेशशर्मा,शेरसिंह,ज्ञानचंद,प्रकाश,सतबीर,रामपाल,अमरनाथ,रामेश्वर,मंजीतसिंहवराममेहरशामिलरहे।

By Dunn