जागरणसंवाददाता,वृंदावन:निगमबनातोशहरीजनताकीउम्मीदोंकोपंखलगगए।सोचाकिअबशहरकीतस्वीरबदलजाएगी।नसिर्फगंदगीसाफहोगी,बल्कितमामव्यवस्थाएंभीदुरुस्तहोंगी।मगरऐसाअबतककुछनहोसका।तीर्थनगरीमेंआजभीजगह-जगहगंदगीकेढेरलगेहुएहैंतोनालियांओवरफ्लोहोरहीहैं।

करीबएकसालपूर्वनगरपालिकाकोनिगमकादर्जामिला।निगमबननेसेतीर्थनगरीमेंविकासकीउम्मीदेंजागी।निगमकाबोर्डऔरकार्यसमितिभीगठितहोगई।दर्जनोंबारमेयरनेनिरीक्षणभीकिया,मगरबदलावकुछनहींहोसका।हालातयहहैंकिआएदिननालियोंकागंदापानीसड़कपरबहरहाहै।अधिकमासमेंगंदेपानीमेंहोकरश्रद्धालुमंदिरोंकेदर्शनकरनेकोमजबूरहोरहेहैं।गोपीनाथबाजारयमुनाकिनारेकेशीघाटजानेकाएकमात्ररास्ताहै।यहांसुबहसेनालीकापानीसड़कपरबहतारहताहै।हजारोंश्रद्धालुयमुनास्नानकोइसीरास्तेसेगुजरतेहैं।यहांअक्सरयहीस्थितिरहतीहै।इनदिनोंलाखोंश्रद्धालुवृंदावनमेंडेराडालेहैंऔरहरदिनहजारोंश्रद्धालुआभीरहेहैं।बावजूदइसकेनिगमप्रशासनमौनबनाहुआहै।जगह-जगहलगेकूड़ेकेढेरदेखकरलगताहैकिनिगमप्रशासनकोगंदगीसेकोईलेना-देनाहीनहींहै।नालियोंमेंजमीसिल्टकाहीनतीजाहैकिपानीउफनकरसड़कपरबहरहाहै।इसलापरवाहीसेश्रद्धालुओंकीआस्थानिगमकीकार्यप्रणालीसेनकेवलस्थानीयलोगबल्किबाहरसेआरहेश्रद्धालुओंकीआस्थाभीतार-तारहोरहीहै।