राकेशशर्मा,कठुआ:आजकोरोनानईचुनौतीबनकरउभराहै।अभीतकइससेनिजातदिलानेकेलिएदवातकनहींबनपाईहै।इसकेकारणविश्वमेंत्राहीमचीहुईहै।ऐसेमेंपहलेसेहीकैंसर,शुगर,रक्तचाप,स्टोकएवंकिडनीजैसेखतरनाकरोगसेग्रस्तमरीजोंमेंकोरोनासेऔरखौफबढ़गयाहै।करोड़ोंकीसंख्यामेंउक्तबीमारीसेग्रस्तलोगोंकोलगनेलगाहैकिअबउनकीकोईदेखभालनहींकरेगा।पहलेसेहीबीमारीसेजूझरहेलोगखौफजादाहैं।हालांकि,मौजूदासमयमेंजहांसबगतिविधियांबंदहोजानेसेहवासेप्रदूषणगायबहै,वहींलोगोंकेघरोंमेंबैठजानेकीवजहसेजंगफूडसेभीदूरहैं।

आलमयहहैकिअधिकांशलोगघरोंमेंहीबैठकरसादाऔरपारंपरिकजीवनशैलीजीरहेहैं,घरोंमेंबैठकरयोग,प्राणायामआदिभीकरजीवनशैलीमेंबदलावलानेकाप्रयासकररहेंहैं,लेकिनलॉकडाउनहटतेहीशायदफिरवहीहालातहोजाए।अगरलोगइसीसमयसबकलेकरअपनीजीवनशैलीमेंबदलावलातेहैंतोविश्वमेंआनेवालेऐसीकईबीमारियोंकीचुनौतियोंकासामनाकरसकतेहैं।

हरसालदेशमें15लाखकेकरीबकैंसरकेनएमरीजआतेहैं,इसकेअलावाशुगर,रक्तचाप,किडनी,स्टोक,हृदयरोगसेजूझरहेमरीजोंकेसमक्षनियमितइलाजकरनाबड़ीचुनौतीबनगयाहै,इसचुनौतीसेपहलेनिपटनाप्राथमिकताबनगईहै,होनीभीचाहिए,क्योंकिइसकाकोईइलाजयादवाअभीतकनहींबनीहै।इसकेकारणयेहरव्यक्तिकेलिएखतराऔरचुनौतीबनचुकीहै।ऐसेमेंअबकोरोनासेबचनेकेलिएक्याएहतियातहैं,हमेंपहलेविश्वस्वास्थ्यसंगठनकेएहतियातकोबरतनाहै,तभीहमइससेबचावकरसकतेहैं।पूरास्वास्थ्यविभागकोरोनासेबचानेएवंइलाजमेंलगाहै।ऐसीस्थितिमेंकैंसरजैसीखतरनाकबीमारीकेरोगियोंकेलिएनियमितइलाजकरनाभीचुनौतीहै।

रेडिऐशनऔरकीमोथैरेपीइससमयबंदहै,लेकिनऐसेहालातमेंभीकैंसरकेचौथीस्टेजकेरोगियोंकाइलाजडॉक्टरहीकरेंगे,इसकेचलतेअन्यस्टेजकेकैंसररोगियोंकोघबरानानहींहै।उनकाइलाजकुछसमयकेलिएस्थगितहोसकताहै,बंदनहीं,क्योंकिडॉक्टरखुदअपनीजानखतरेमेंडालकरकोरोनासेलड़रहेहैं।हमसभीकोकैंसररोगियोंकाहौसलाबढ़ानाहै,लेकिनऐसाभीनहींहै,डॉक्टरउनकाइलाजनहींकरेंगे,जरूरकरेंगे,जहांजरूरीहोगा।जबटाटाजैसेबड़ेअस्पतालकोकोविड-19मेंबदलगयाहैतोस्थानीयअस्पतालमेंअन्यरोगोंकाकैसेइलाजहोगा।

बहरहाल,कोरोनाजैसीबीमारीसेपैदाहुएसंकटकासामनाकररहीदुनियामेंअबलोगोंकोअपनेरहनसहन,खानपानपरध्यानदेनाजरूरीबनगयाहै।येहरकिसीकेलिएवर्तमानबनेहालातमेंजरूरीहै।अबतककीसबबड़ीस्वास्थ्यचुनौतीकोरोनाबनगयाहै।लोगोंकोइससमयअपनीजीवनशैलीपारपंरिकतरीकेसेजीनाहै।शरीरकीसफाईसेलेकरघरकेआसपास,गली,मोहल्ले,वार्डऔरनगरतकप्राथमिकताबनगईहै।खानपानमेंस्वच्छतापहलीजरूरतबनगईहै।कोट्स----

कैंसररोगियोंकाइसमौजूदासमयपूरीदेखभालनहोनेकेकारणसाइडइफेक्टहोनेकीसंभावनाहै,लेकिनवेघबराएंनहीं,बल्किनईचुनौतीकासामनाकरेंऔरडॉक्टरोंकीसलाहमानतेहुएअपनाहौसलाबनाएरखें।कमजोरइम्यूनसिस्टमवालेमरीजसेज्यादानौजवानकैंसररोगीकोबचानाप्राथमिकताहै।

-डॉ.दीपकअबरोल,कैंसररोगविशेषज्ञ,जीएमसी,कठुआ।कोट्स----

प्रतिदिनयोग,व्यायाम,सुबहकीसैरआदिकोनियमितबनानाहोगा,तभीबीमारियोंसेबचपाएंगे।अभीकोरोनाकोलेकरजोभीएहतियातहै,उसपरअमलकियाजाएतोकाफीहदतकअपनेआपकोस्वस्थबनासकतेहैं।डॉक्टरभीइससमयचुनौतियोंकासामनाकररहेहैं।डॉक्टरोंकेसाथबैकबोनकीतरहकामकररहीनर्सकीभूमिकाकोभीअनदेखानहींकियाजासकताहै।वेभीमरीजकीदेखभालमेंअपनीड्यूटीबराबरदेरहीहैं।

-डॉ.अशोकचौधरी,सीएमओ,कठुआ।

By Farmer