छतरपुर।ईशानगरक्षेत्रमेंपहाड़गांवकेलोगइनदिनोंसड़क,बिजलीऔरपानीकीसमस्यासेपरेशानहै।पहाड़गांवकेबरावालेपुरवामेंरहनेवालेलोगोंकेसाथहीस्कूलीबच्चोंकोपुरवासेस्कूलवगांवतकपहुंचनेकेलिएरास्तेमेंभरेकीचड़सेहाेकरगुजरनापड़रहाहै।

येभीपढ़ें

राजस्थानकेरास्तेविदाहुआमानसून,20केबादरातकेतापमानमेंआएगीगिरावट

परिजनोंकोप्रतिदिनबच्चोंकोस्कूलपहुंचानेकेलिएकंधेपरबैठाकरलेजानापड़ताहै।यदिगांवकाकाेईव्यक्तिबीमारहोजाएतोउसेभीपीठपरबांधकरलेजानापड़ताहै।गलीमेंकीचड़इतनाहैकेबाइककोभीनिकालनामुश्किलहै।ग्रामीणोंनेबतायाकिइसमार्गपरपुरातत्वविभागकाप्राचीनशिवमंदिरभीहै,जहांजिलेभरसेलोगदर्शनकोआतेहैं।

हमारेयहांकोईभीसरपंचबने,लेकिनजनताकोआजतकपक्कीसड़कनहींबनी,बिजलीतोएकसपनासाबनकररहगईहै।तुलसीदासकुशवाहा,रामबाई,धनीराम,विजयकांतविश्वकर्मा,ललिताकुशवाहा,बंदी,निमीमिश्रासहितसभीग्रामीणोंनेइनसमस्याओंकानिराकरणकरनेजिलाप्रशासनसेकईबारमांगकीपरकुछनहींहुआ।

इसमामलेमेंसरपंचप्रतिनिधिराजेंद्रसिंहबुंदेलाकाकहनाहैकिपिछलेदिनोंपुरवाकेलिएसुदूरसड़ककाडीपीआरतैयारकरायाऔरगांवतककेरास्तेकीनापभीकराई।परकुछप्रभावशालीलोगोंकीजमीनरास्तेमेंहोनेकेकारणसड़ककानिर्माणनहींहोसका।