पाश्चात्यफैशनकेप्रभावमेंअगरभारतीयपारंपरिकसाड़ियोंकीमांगकमहोगईथीतोअबउसीपाश्चात्यफैशनकेप्रभावमेंइनसाड़ियोंकेप्रतिफिरसेदीवानगीबढ़भीरहीहै।

लंदनमेंचलरहेलंदनफैशनवीकमेंभारतीयपारंपरिकहस्तनिर्मितसाड़ियोंकाजलवादेखनेकोमिला।इसीकेसाथफैशनइंडस्ट्रीमेंएकबारफिरसेबड़ेबदलावकेसंकेतमिलनेलगेहैं।लोगनकेवलसाड़ियोंकीतरफरुखकररहेहैंबल्किउनसाड़ियोंकीमांगकररहेहैंजोविभिन्नक्षेत्रोंमेंवहांकेकारीगरोंवबुनकरोंद्वाराबनाईजातीहैं।

शुरूहोगएहैंएक्सपेरिमेंट

कुछफैशनडिज़ाइनरइसतरहकीसाड़ियोंकोफिरसेआधुनिकफैशनकीमुख्यधारासेजोड़नेकाप्रयासकररहेहैं।फैशनडिजाइनरगौरवगुप्ताबनारसीसेलेकरअन्यसाड़ियोंकोफिरसेलारहेहैं।

लंदनफैशनवीककाअसरभारतीयबाजारोंपर

लंदनफैशनवीककेबादअबडिजाइनर्सफिरसेसाड़ियोंकेकलेक्शनपरकामकरनेलगेहैं।फैशनडिजाइनरशीतलश्रीवास्तवकेमुताबिकइसतरहकीसाड़ियोंकीसराहनादेखकरअबबाजारोंमेंइनकीमांगऔरभीज्यादाबढ़नेकीसंभावनाहै। फैशनएक्सपर्टसीमाअग्रवालकाकहनाहैकिबनारसी,इकत,बांधनी,जामावर,पटोला,पैठनीआदिसाड़ियोंपरप्रिंट,कशीदाकारीऔरकटवर्ककेसाथ-साथरूपांकनोंसेसाड़ियोंकीतरफफिरसेरूझानबढ़ेगा।मथुराकेपेपरकटिंगक्राफ्टसांझी,छत्तीसगढ़कीकलाबस्तर,एमपीकीकलागोंड,बिहारकीमधुबनीऔरओडिशाकीपटचित्रकेअलावाबनारसीसाड़ियोंकोडिज़ाइनरसराहनेलगेहैं।

दरअसलसाड़ियांपहलेसिर्फट्रेडिशनलमौकोंपरहीपहनीजातीथींलेकिनअबग्रेसफुलऔरखूबसूरतनजरआनेकेलिएइन्हेंडेआउटिंगसेलेकरकिटीपार्टी,ऑफिशियलपार्टीतकमेंलेडीजकॉन्फिडेंटलीकैरीकररहीहैं।इतनाहीनहींसाड़ीकोअलग-अलगतरीकोंसेड्रेपकरआपइंडो-वेस्टर्नलुकभीपासकतीहैं।यहीवजहसेइसकीबढ़तीपॉपुलैरिटीकी।

By Elliott