सत्येनओझा/अश्वनीशर्मा,मोगा

कुछसालोंमेंजिलेमेंफलदारपेड़लगानेकारुझानकाफीज्यादाबढ़ाहै।हालांकिअभीजिनलोगोंनेफलदारपेड़लगाएहैं,उन्होंनेअभीइसकाव्यवसायतोशुरूनहींकियाहै,लेकिनभविष्यमेंइससेउनहेंबड़ीउम्मीदेंहैं।इन्हींमेंमोगाकेव्यवसायीतरलोकजिदल(65साल)वगांवडालाकेकिसानअमरजीतसिंहशर्मा(60साल)प्रमुखहैं।

सीनियरसिटीजनएवंव्यवसायीतरलोकजिदलनेसातसालतकयोगकरकेवऑर्गेनिकविधिसेलगाएफलवसब्जियोंकासेवनकरशुगरपरविजयपाईहै।शुगरकेसाथलड़ाईमेंन्यूफ्रैंडसकॉलोनीमेंतरलोकजिदलएकखूबसूरतबागभीतैयारकरचुकेहैं,जिसमेंनारंगी,अंजीर,जामुन,अनार,चकोतरा,संतरा,अमरूद,पपीता,आंवलेकेपौधेप्रमुखहैं।तरलोकजिदलअभीतकतोबगीचेमेंलगेपौधोंकेफललोगोंकोबांटतेरहेहैं।मगर,अबवेइनपौधोंकेऔषधीयमहत्ववअधिकमात्रामेंफलोंकेलगनेकेबादइससेव्यावसायिकलाभकमानेकीसोचनेलगेहैं।

तरलोकजिदलबतातेहैंकिबगीचेनेनसिर्फउन्हेंनईजिदगीदीहैबल्किउम्रकेइसपड़ावमेंकमाईकीभीनईउम्मीदजगाईहै।अबतोउनकीहरसांसइसबगीचेकोसमर्पितहै।इसीमेंवेअपनीजिदगीकेआनंदकोदेखतेहैं।

तरलोकजिदलहीनहींबल्किपिछलेदससालोंसेऑर्गेनिकविधिसेसब्जियोंकीखेतीकररहेगांवडालाकेकिसानअमरजीतसिंहशर्मानेभीकुछसालोंसेनयाप्रयोगशुरूकियाहै।उन्होंनेअपनेआर्गेनिकसब्जियोंवालेखेतोंकीमेड़परफलदारपौधेनीबू,अमरूद,एप्पलबेर,खजूरकेपौधेभीलगाएहैं।ऑर्गेनिकविधिसेसब्जियांउगाकरअमरजीतशर्मानेअपनीआर्थिकस्थितिकोसुधाराहै।इनदिनोंमेंउनकेखेतमेंएप्पलबेरकापौधाफलसेपूरीतरहलदाहै।इसपरपहलीबारबेरलगेहैं।वहइसबारतोनहींलेकिनअगलीबारइनकीबिक्रीकरेंगे।अगलेसालतकनीबू,अमरूद,खजूरवकिन्नूकेपौधेभीउनकेलिएव्यवसायकानयारास्ताखोलेंगे।

अमरजीतसिंहबतातेहैंकिखेतीजबघाटेकासौदाबनगईथी,तबउन्होंनेपहलेऑर्गेनिकविधिसेसब्जियांउगाकरअपनेआर्थिकहालातकोबेहतरकियाथा।आगामीदिनोंमेंउनकेद्वारालगाएफलदारपौधेउन्हेंआर्थिकरूपसेऔरभीज्यादामजबूतबनाएंगे।इसीउम्मीदकेसाथवेअपनेखेतोंमेंहरसालफलदारपौधोंकीसंख्याबढ़ातेजारहेहैं।पहलीबारएप्पलबेरवकिन्नूमेंउन्हेंकाफीसफलतामिलीहै।हालांकिपिछलेसालउन्होंनेकेसरकीखेतीभीकीथी,लेकिनउसमेंघाटाहोनेकेकारणफिलहालफलदारपौधोंपरध्यानज्यादादेनाशुरूकरदियाहै।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!

By Finch