लगातारबढ़रहेकाेराेनामरीजाेंकाेइलाजकेलिएबेडमुहैयाकरानेकेमामलेमेंजिलाप्रशासनऔरहेल्थविभागविफलहाेरहाहै।प्रशासनकेमुताबिक62अस्पतालाेंमेंलेवल-2और3के920बेडउपलब्धहैं,जिनमेंसे913फुलहोचुकेहैं।सिर्फप्राइवेटअस्पतालोंमेंही7बेडहीबचेहैं।मरीजोंकोबेडनमिलनेपरप्रशासननेरविवारकोकमेटीबनाकरजांचकीतोपताचलाकिजालंधरमें52फीसदीमरीजदिल्ली,हिमाचल,हरियाणाऔरअन्यजिलोंसेभर्तीहैंजबकि48फीसदीलोकलमरीजोंकोसुविधामिलसकीहै।जांचकेदौरानएकबड़ाफर्जीवाड़ाभीसामनेआयाकिशहरकेएकप्राइवेटअस्पतालसे6औरदूसरेसे3डमीमरीजमिले,जिनकाअस्पतालोंकीतरफसेकोईरिकाॅर्डदर्जनहींकियागयाथा।

प्रशासननेअस्पतालोंसेउक्तडमीमरीजोंकेबारेमेंजांचशुरूकरदीहै।उधर,जिलेमेंपहलीबार725संक्रमितमिले,जिनमेंसे12बाहरीजिलोंकेहैं।जिलेकेआंकड़ेमें713कोदर्जकियागयाहै।इसकेअलावा8मरीजोंनेदमतोड़दिया।पिछलेरविवारको648संक्रमितमिलेऔर3कीमौतहुईथी।रविवारआएसंक्रमितोंमेंज्यादातरकीउम्र51सालसेज्यादाहै।सेहतविभागकाकहनाहैकिजिनमरीजाेंकीमाैतहुईहै,वेसभीपहलेसेबीमारथे,हालतगंभीरहाेनेपरउन्हेंअस्पताललायागया।

नार्थहलकेमेंप्रीतनगर-सोढलरोडपरस्टॉर्मवाटरसीवरेजकेपाइपडालनेकाकामहोनेकेबादअबसड़कबनानेकाकामशुरूहोगयाहै,लेकिनरविवारकोलॉकडाउनमेंविकासकाक्रेडिटलेनेकेलिएकांग्रेसकेनेताओंनेकोविड-19कीसारीहिदायतोंकीधज्जियांउड़ादीं।रविवारसुबहपार्षदअवतारसिह,पार्षददीपकशारदा,पार्षदसुशीलकालियाउर्फविक्कीकालिया,पार्षदपतिमाइकखोसलानेसमर्थकोंकेसाथनामधारीसंतकेहाथोंरिबनकटवाकरसड़कबनानेकेकामकाउद्घाटनकिया।आसपाससेगुजरतेलोगतमाशादेखतेरहेऔरपक्षपातीरवैयेकेलिएपुलिस-प्रशासनकोकोसतेरहे।

परोपकारीलाेगप्रशासनकीमददकरें

डीसीघनश्यामथोरीनेकाेविड-19सेनिपटनेकेलिएसिटीकेअामलाेगाेंसेमददमांगीहै।उन्होंनेकहाकिडिस्ट्रिक्टरेडक्रॉससोसायटीनेकोविड-19राहतकोषजिलारिलीफफंडबनायाहै।पराेपकारीलोगबैंकखातासंख्या50100033127430,IFSCकोडHDFC0001391,MICRकोड1440000009,HDFCबैंकमेंऑनलाइनमाेडसेयोगदानकरसकतेहैं।उन्होंनेकहाकिजिलाराहतकोषमेंयोगदानकोआयकरअधिनियमसेछूटदीगईहै।दूसरीतरफजिलेमेंऑक्सीजनसिलेंडरोंकीकमीदूरकरनकेलिएइंडस्ट्रियलिस्टआगेआएहैं।उन्होंने200सिलेंडरजिलाप्रशासनकोभेजेहैंजबकि800सिलेंडरोंकाप्रबंधकरनेकाटारगेटलियाहै।

दिल्लीकीतर्जपरतोनहींहोरहाडमीमरीजोंकाखेल

हालहीमेंदिल्लीमेंसरकारसेबचनेकेलिएएकअस्पतालकीमैनेजमेंटबेडरिजर्वकरनेकेलिएअपनेहीकर्मचारीकाेमरीजबताकरलेटादेतीथी।बादमेंजबकाेईगंभीरमरीजभर्तीहोनेकेलिएआताथा,ताेउससेलाखाेंरुपएलेकरबेडखालीकरउसेदेदियाजाताथा।इसकेलिएमरीजबनकरलेटनेवालेकर्मचारीकोसैलरीकेअलावा800से1000रुपएजयादादिएजातेथे।बादमेंअस्पतालस्टाफमेंइसकीचर्चाहाेनेलगीताेपूरेप्रकरणकाखुलासाहोगया।जालंधरमेंरविवारकोदोप्राइवेटअस्पतालोंमें9डमीमरीजमिलेहैं,जिनकाकोईरिकाॅर्डनहींहै।जिलाप्रशासननेरविवारकीसुबहबतायाकिअस्पतालोंमेंलेवल-2और3के425मरीजजालंधरकेहैंजबकिबाहरीजिलोंके276औरदूसरेराज्योंके193मरीजदाखिलहैं।इनविभिन्नअस्पतालाेंमेंदेरशामतक10अाैरगंभीरमरीजभर्तीहुए।इसबारेडिप्टीकमिश्नरघनश्यामथोरीकाकहनाहैकिबेडोंकीउपलब्धताकाेबढ़ानेकेलिएतेजीसेप्रयासकिएजारहेहैं।

सरकारीअस्पतालमेंलगेगीदूसरीडाेज

काेविड-19वैक्सीनकातीसराचरणशुरूहाेनेसेपहलेहेल्थडिपार्टमेंटनेसभीप्राइवेटअस्पतालोंसेवहांरखीवैक्सीनमंगवालीहै।जिलाटीकाकरणअधिकारीकाकहनाहैकि45सालसेअधिकआयुवालेजिनलाेगाेंनेप्राइवेटअस्पतालमेंवैक्सीनकीपहलीडोजलगीहै,उन्हेंआनेवालेदिनाेंमेंसरकारीअस्पतालाेंमेंदूसरीडाेजदीजाएगी।इसकेलिएलाेगाेंकाेकोईचार्जनहींदेनापड़ेगा।जिक्रयाेगहाेकिएकमईसे18सालसेअधिकआयुकेयुवाओंकेलिएटीकाकरणशुरूहाेनाथा,मगरवैक्सीनकीकमउपलब्धताकेचलतेइसमेंदेरीहाेरहीहै।

By Farmer