जागरणसंवाददाता,बरईपार(जौनपुर):किसानअपनीफसलोंकोबचानेकेलिएकंपोस्टएवंगोबरकीखादकाप्रयोगकरें।इससेतमामबीमारियोंसेभीबचसकतेहैं।फसलोंकीसुरक्षाकेलिएपुरानेतरीकेअपनाकरउत्पादनबढ़ासकतेहैं।किसानअपनीफसलेंवपौधोंकोलेकरजागरूकरहें।यहबातेंकृषिवैज्ञानिकविमलकुमारनेगुरुवारकोशाहपुरगांवमेंसंकटमोचनपरिसरमेंकिसानोंकोजागरूककरतेहुएकही।

उन्होंनेरामचंद्रतिवारीद्वाराआमकेपेड़मेंलगेरोगोंकेबारेपूछनेपरबतायाकिआमकेपेड़ोंमेंजीवाणुजनितरोगहोतेहैं।अमूमनआमकेपेड़मेंड्राईबैग,गमोसिसवपत्तीकाटनेवालेकीड़ेसेसंबंधितसमस्याआतीहै।ड्राईबैगमेंटहनियोंकेऊपरसेसूखनेतोगमोसिसमेंपेड़ोंकेतनेसेगोदनिकलनेलगतेहैं।बरसातमेंमैंगोलीवकटरकीड़ेलगतेहैं।इनरोगोंमेंदवाकोड्रेंचिगयास्प्रेकियाजाताहै,जोपौधोंकोरोगोंसेबचाताहै।इसीतरहविजेंद्रसिंह,प्रमोदआदिनेभीअपनाविचारव्यक्तकिया।इसदौरानकृषिरक्षाप्रभारीनेअच्छेउत्पादनकेलिएतरीकेकेअलावाखरीफकीफसलोंकोरोगोंऔरकीड़ोंऔरछोटेजीवोंसेबचनेकापुरानातरीकाबतातेहुएउसेकारगरबताया।इसदौरानजितेंद्रतिवारी,रामचंद्रतिवारी,संदीपतिवारी,अनिलमिश्र,रमेशचंद्रयादव,सुरेंद्रगौतम,सुलेयादव,अन्नूविश्वकर्मा,तेजाआदिमौजूदरहे।

By Edwards