टीमजागरण,जाटी,पिथौरागढ़/धारचूला:सीमांतमेंबारिशकाकहरजारीहै।तवाघाट-सोबलामार्गपरनारायणपुरकेपासपहाड़सेगिरेपत्थरकीचपेटमेंआनेसेन्यूसोबलानिवासीएकग्रामीणयुवककीमौतहोगईहै।टनकपुर-तवाघाटहाईवेपरधारचूलासेपांचकिमीआगेदोबाटकेपासमार्गबंदहोगयाहै।चीनऔरनेपालसीमासेलगेसौसेअधिकगांवोंकासम्पर्ककटाहुआहै।जिलेमेंआठमोटरमार्गअभीभीबंदहैं।

धारचूलासेलगभग24किमीदूरतवाघाट-सोबला-दारमामार्गपरनारायणपुरकेपासपहाड़कीतरफसेगिरेएकपत्थरकीचपेटमेंआनेसेयुवककीमौतहोगईहै।जानकारीकेअनुसारबुधवारकीसायंलगभगसाढ़ेसातबजेकेआसपासविगतपचासदिनोंसेबंदतवाघाट-सोबलामार्गपरन्यूसोबलासेचारपांचलोगपैदलधारचूलाकोआरहेथे।इसमार्गपरसबसेखतरनाकबनेस्थलनारायणपुरकेपासपहाड़कीतरफसेपत्थरगिरनेलगे।पहाड़कीतरफसेपत्थरगिरतेदेखकरविशालदरियाल28वर्षपुत्रदेवरामदरियालनेसभीकोआगाहकिया।उसकेआगाहकरनेपरअन्यलोगतोबचगए,परंतुखुदविशालपहाड़सेगिरेपत्थरकीचपेटमेंआगयाऔरउसकीमौकेपरहीमौतहोगई।हाइवेधारचूलासेतवाघाटकेमध्यधारचूलासेलगभगपांचकिमीदूरदोबाटकेपाससुबहसेबंदहै।वाहनफंसेहुएहैं।

बीआरओमार्गखोलनेमेंजुटाहै।सायंतकमार्गखुलनेकीसंभावनाजताईजारहीहै।दोबाटकेपासमार्गबंदहोनेसेचीनऔरनेपालसीमासेलगेतल्ला,मल्लादारमा,तल्ला,मल्लाचौदासऔरव्यासघाटीकेलगभगसौसेअधिकगांवअलग-थलगपड़ेहुएहैं।लिपुलेखमार्गपरमलबाआनेसेवाहनफंसेहैं।तवाघाट-सोबला-तिदांगमार्ग50वेंदिनभीबंदहै।मार्गबंदहोनेसेसीमाछोरकेग्रामीण,सुरक्षाबलपरेशानहैं।

व्यासमार्गपरब्लास्टिंगसेबड़ाखतरा

धारचूला:व्यासघाटीमेंगर्बाधार-लिपुलेखमार्गपरबीआरओद्वाराचट्टानेंतोडऩेकेलिएलगातारकिएजारहेबारूदीविस्फोटकियाजाताहै।जिसकेचलतेमार्गबंदहोजाताहै।एकदिनमार्गखुलताहैफिरकईदिनोंतकबंदहोजाताहै।जिसकेचलतेआवाजाहीप्रभावितहोतीहै।व्यासघाटीकेसातगांवोंकेग्रामीणोंनेबीआरओसेबारूदीविस्फोटकीसूचनापहलेदिएजानेकीमांगकीहै।दारमाघाटीमेंतिदांगमार्गगर्गुवाऔरखेतनामकस्थानपरधंसचुकाहै।कंच्योतीमेंपुलबहाहुआहै।उर्थिग-नागलिंगकेबीचसड़कबहचुकीहै।ग्रामीणजानहथेलीपररखकरपैदलआवाजाहीकररहेहैं।पचासदिनसेदारमाऔरचौदासघाटीअलग-थलगपड़ीहै।अभीतकमार्गखोलनेकाप्रयासतकनहींकियाजारहाहै।

पूजाकेलिएनहींजापारहेहैंग्रामीण

धारचूला:उच्चहिमालयीदारमा,व्यासवचौदासघाटीमेंसावनकेमाहग्रामीणोंकोपूजाकरनाहोताहै।स्थानीयपरंपराकेअनुसारइसीमाहसबसेअधिकपूजाहोतीहै।अपनेदेवीदेवताओंकीपूजाकेलिएदेशकेविभिन्नराज्योंमेंनौकरीकरनेवालेलोगआएहैं,परंतुलगभगदोमाहसेमार्गोकेबंदहोनेकेकारणअपनेगांवोंतकनहींपहुंचपारहेहैं।हेलीकॉप्टरसेवामौसमनेरोकीहै।जिसेलेकरउच्चहिमालयवासीपरेशानहैं।प्रशासनसेमार्गोंकोखोलनेकीमांगकीहैताकिअपनीपरंपराकेअनुसारलोगअपनेगांवोंतकजाकरपूजाकरसकें।

By Evans