बठिंडा,[गुरप्रेमलहरी]।यूक्रेनकेसाथरूसकायुद्धशुरूहोजानेसेभारतआनेवालीफ्लाइटेंभीरदहोगईहैं,इसकारणभारतलौटनेवालेछात्रएयरपोर्टपरहीफंसगएहैं।एयरपोर्टपरफंसेभारतीयछात्रोंकोयूक्रेनकीवीरवारकोराजधानीकीवमेंस्थितभारतीयदूतावासमेंठहरायागयाहै,लेकिनवहांपरभीइतनेछात्रोंकेठहरनेकाप्रबंधनहींथा।छात्रजमीनपरहीबैठेहुएहैंऔरदहशतकामाहौलबनाहुआहै।रातकोभीछात्रोंकोजमीनपरहीलेटनापड़ा।वहींबिगड़तेमाहौलकेकारणछात्रोंकेसाथ-साथभारतमेंरहतेउनकेअभिभावकोंकीधड़कनेंभीतेजहोगईं।सभीसलामतीकीदुआकररहेहैं।

विद्यार्थियोंकोराजधानीकीवमेंभारतीयदूतावासमेंठहरायागया,नहींहैकोईप्रबंध,जमीनपरहीबैठे

यूक्रेनकेशहरखारकीवकीयूनिवर्सिटीमेंएमबीबीएसकीपढ़ाईकरनेवालेबरेटाकेछात्रपीयूषगोयलनेफोनपरबतायाकिएयरपोर्टपरउसकेकईदोस्तफंसेहुएहैं।दोस्तोंनेवहांकेहालातकीफोटोभीभेजीहैऔरमददकीगुहारलगाईहै।पीयूषनेबतायाकिअबखारकीवमेंमाहौलखराबहोगयाहै।हालांकिअबतकसबकुछठीक-ठाकथा,लेकिनवीरवारकोयुद्धशुरूहोनेकेसाथहीयूनिवर्सिटीबंदहोगईहैऔरपूराशहरबंदहोगयाहै।

खारकीवमेंफंसेबठिंडाकेबरेटाकेछात्रनेबताया,सरकारनेघरकेअंदरहीरहनेकोकहा

सरकारनेआदेशजारीकरदिएहैंकिआपअपनेघरोंमेंराशनस्टोरकरलेंऔरघरोंकेअंदरहीरहें,बाहरननिकलें।मेरी27फरवरीकोफ्लाइटथी,लेकिनअबसभीफ्लाइटेंरदहोगईहैं।भारतीयदूतावाससेसंपर्ककियागयातोउन्हेंजल्दभारतभेजनेभरोसादियागया।उधर,बेटेकीसलामतीकोलेकरपिताभारतभूषणकाफी चिंति‍तहैं।उन्होंनेकहाकिबेटेकेसाथ-15-15मिनटबादकालकरकेहालचाललेरहेहैं।उन्होंनेसरकारसेगुहारलगाईकिवेतुरंतभारतीयबच्चोंवापसीकाप्रबंधकरे।

खारकीवमेंसिर्फविद्यार्थीहीबचे

पीयूषगोयलनेबतायाकिखारकीवरूसकेबिल्कुलबार्डरपरहै।इसलिएयहांपरखतराज्यादाहै।खराबमाहौलकेचलतेस्थानीयलोगखारकीवकोछोड़करसुरक्षितजगहोंपरचलेगएहैं।यहांपरअबसिर्फछात्रहीबचेहैं।छात्रोंमेंभीज्यादातरभारतीयहीहैं।

1500किलोमीटरट्रेनमेंकियासफर,दोगुनालगाफ्लाइटकिराया

यूक्रेनमेंफंसेफाजिल्काजिलेकेअबोहरकीताराएस्टेटकालोनीमेंरहनेवालेज्वैलरबिट्टूसोनीकीबेटीहिनासोनीतथाइसीकालोनीकेरहनेवालेयुवराजभादुसकुशलघरवापसपहुंचगएहैं।दोनोंयूक्रेनकेलबीबराज्यमेंस्थितनेशनलमेडिकलयूनिवर्सिटीमेंएमबीबीएसकेतृतीयवर्षकेविद्यार्थीहैं।

हिनानेबतायाकिरूससेफ्लाइटपकड़नेकेलिएउन्हेंलबीबसेट्रेनद्वाराकरीब1500किलोमीटरकासफरकरनापड़ा।हालातखराबहोनेकेकारणउन्हेंपहलीबारयूक्रेनसेभारतआनेकेलिएफ्लाइटकादोगुनाकिरायाअदाकरनापड़ा।इससेपहलेयूक्रेनसेनईदिल्लीकेलिएमहज300डालरमेंटिकटमिलतीरही,लेकिनइसबारदोगुनाराशिअदाकरनीपड़ी।सकुशलघरपहुंचेहिनावयुवराजकेस्वजनोंप्रसन्नताजताईऔरपरमात्मावभारतसरकारकाशुक्रियाअदाकियाहै।

श्रीमुक्तसरसाहिबजिलेकेआधादर्जनविद्यार्थीफंसे

श्रीमुक्तसरसाहिबजिलेकेआधादर्जनविद्यार्थीयूक्रेनमेंफंसेहैं।मुक्तसरनिवासीरणजीतसिंहकीबेटीजैसमीनकौरखारकीवमेंएमबीबीएसचौथेवर्षकीछात्राहैं।वीरवारकीशामकोउसकीभारतकेलिएफ्लाइटथी।इसीतरहहीमुक्तसरकेनिवासीगुरमुखसिंहकीबेटीमहकप्रीतकौरकीभीफ्लाइटथी।वहअपनीफ्लाइटपकड़नेकेलिएएयरपोर्टकेनजदीकभीपहुंचगईथी,लेकिनरास्तेसेहीलौटादियागया।मुक्तसरकेडा.मेजरसिंहकापोताहरनिरपालसिंहवपोतीहरसिमरणकौरखारकीवमेंहीएमबीबीएसचौथेवर्षकेविद्यार्थीहैं।वापसीकेलिएउन्होंनेभीटिकटबुककरवाईहुईहै।शुक्रवारकोउनकीफ्लाइटथी,लेकिनअबफ्लाइट्सरदहोगईहैं।

यूक्रेनमेंफंसेबच्चोंकीसलामतिकीदुआमांगरहेपरिवार

उधरयूक्रेनमेंफंसेपंजाबनिवासियोंकेलिएस्वजनसलामतीकीदुआमांगरहेहैं।अबोहरकेमोहल्लाभगवानपुरानिवासीसेवानिवृत्त प्रिंसिपलगुरचरणसिंहनेबतायाकिउनकाबेटाहरजिंदरसिंहयूक्रेनमेंखारकीवयूनिवर्सिटीमेंएमबीबीएसकररहाहै।वीरवारकोबेटेसेबातहुईहै,जोसकुशलहैलेकिनवहांहालाततनावपूर्णबनेहुएहैं।

उन्होंनेबतायाकिएकतोकिरायाकाफीवसूलाजारहाहैतोदूसराफ्लाइटकममिलरहीहै।बेटेकी26फरवरीकोबु¨कगहुईहैलेकिनबिगड़ेहालातकेकारणचिंताबढ़गईहै।उन्होंनेमांगकीभारतऔरपंजाबसरकारबच्चोंकीवापसीकेलिएजल्दउचितकदमउठाए।अबोहरकेनानकनगरीनिवासीराजूविजभीयूक्रेनमेंएमबीबीएसकररहीबेटीदीक्षासकुशललौटनेकीकामनाकररहेहैं।

By Dyer