विशाखापट्टनम,एएनआई।कोरोनावायरससेदेशजहांसंकटसेगुजररहाहै,वहींकुछऐसेचेहरेसामनेआरहेहैंजोअपनेघरपरिवारकोछोड़करसमाजकीचिंताकररहेहैं।इससंकटकालमेंपुलिस,डॉक्टरोंऔरअधिकारियोंकेमानवीयचेहरेलोगोंकोबचानेकेलिएदिनरातएककिएहुएहैं।ऐसीहीएकमहिलाअधिकारीश्रृजनागुम्मालाहैं।आईएएसश्रृजनाआंध्रप्रदेशकेग्रेटरविशाखापट्टनममेंनगरनिगमकीकमिश्ररहैं।उन्हेंछहमहीनेकीमैटरनिटीलीवमिलीथीलेकिनउन्होंनेछुट्टीलेनेसेइनकारकरदियाऔरमहज22दिनकेबच्चेकोलेकरड्यूटीजॉइनकरली।

आईएएसश्रृजनाकाकहनाहैकिवहमैटरनिटीलीवपरथींलेकिनउनकामननहींलगरहाथा।वहएकजिम्मेदारअधिकारीकेतौरपरघरमेंनहींरुकसकतीथीं।उन्होंनेअपनेमातृत्वकेसाथहीफर्जकोभीअहमियतदी।श्रृजनानेबतायाकिउन्होंनेअपनीछुट्टियांनिरस्तकरदींऔरवापसकामपरलौटआईं।वहअपने22दिनकेबच्चेकोघरपरनहींछोड़सकतीथींइसलिएसारेसावधाऩीकेसाथदफ्तरपहुंचगईं।

कामकेबीचबच्चेपरभीदेतीहैंध्यान

बच्चेकोगोदमेंरखकरवहदफ्तरकाकामकरतीहैं।उन्होंनेकहाकिभलेहीवहएकअधिकारीकेरूपमेंसख्तहोंलेकिनएकमांकेरूपमेंवहबहुतसंवेदनशीलहैं।उन्होंनेबतायाकिइसइमरजेंसीकेदौरानलोगोंकोसाफपानीमुहैयाकरानाऔरसाफसफाईसुनिश्चितकरनाजरूरीहै।

हरचारघंटेमेंजाकरबच्चेकोकरातीहैफीड

श्रृजनानेकहाकिजबप्रदेशकेमुख्यमंत्रीदिनरातमेहनतकररहेहैंतोवहअपनोथोड़ायोगदानक्योंनहींदेसकतीं।उनकेफर्जकोनिभानेमेंउनकापरिवारभीयोगदानकररहाहै।सृजनानेबतायाकिसबकेकहनेकेबादअबवहबच्चेकोघरपरछोड़करआरहीहैं।उन्होंनेफैसलालियाहैकिहरचारघंटेमेंजाकरबच्चेकोफीडकराएंगी।इनदिनोंउनकेवकीलपतिभीबच्चेकीदेखरेखमेंलगेहैं।

आंध्रप्रदेशमेंअबतक386संक्रमित

आंध्रप्रदेशकेकुरनूलजिलेमेंकोरोनावायरसकेपांचनएमामलेसामनेआए,जिससेराज्यमेंसंक्रमितलोगोंकीसंख्याबढ़कर386होगई।राज्यमेंकोरोनावायरसकेअबतकछहलोगोंकीजानजाचुकीहैजबकि10लोगोंकोठीकहोनेकेबादअस्पतालसेछुट्टीदेदीगई।कुरनूलजिलेकेपांचनएमरीजतबलीगीजमातकेकार्यक्रममेंभागलेनेवालोंकेपरिवारकेसदस्यहैं।कुरनूल82मामलोंकेसाथराज्यमेंसबसेअधिकप्रभावितजिलाहै,उसकेबाद58मामलेकेसाथगुंटूरदूसरेस्थानपरहै।

By Dunn