जागरणसंवाददाता,जौनपुर:कोरोनावायरसकेखौफवलॉकडाउनकेचलतेकामधंधाबंदहोनेसेजिलेमेंकरीबढाईलाखप्रवासीमजदूरोंकीवापसीहुईहै।यहवहीप्रवासीकामगारश्रमिकहैंजोरोजी-रोटीकेसिलसिलेमेंगांवछोड़करमहानगरोंकीओररुखकरलिएथे।अबघरलौटनेकेबादवेअपनीपुरानीपहचानकोपानेकोआतुरदिखाईपड़रहेहैं।ऐसेमेंतमामदस्तावेजोंमेंनामचढ़वानेकीहोड़मचीहुईहै।कोईप्रधानकेयहांतोकोईसरकारीकार्यालयोंकाचक्करकाटरहाहै।अबप्रशासनकेसामनेइतनीसंख्यामेंलोगोंकाकामकरनेमेंसमस्याहोरहीहै।

महानगरोंसेजनपदमेंजिनलोगोंकीवापसीहुईहै।इसमेंज्यादातरश्रमिकहैं।सरकारीकार्यालयोंकेखुलनेकेबादयहरोजगारवस्थानीयस्तरपरयोजनाओंकालाभपानेकेलिएसरकारीदस्तावेजोंमेंनामचढ़वानेमेंलगेहुएहैं।जिसकाआलमयहहैकिगांववब्लाकमेंकुटुंबवपरिवाररजिस्टरकीनकललेनेकेलिएसेक्रेटरीसेलेकरब्लाककार्यालयोंमेंअधिकारियोंकीमिन्नतेकररहेहैं।वहींराशनकार्डबनवानेकेलिएलोगप्रधानवजिलापूर्तिकार्यालयकाभीचक्करकाटरहेहैं।इसकेअलावामनरेगामेंरोजगारकेलिएजाबकार्डबनवानेकेलिएग्रामरोजगारसेवक,सेक्रेटरी,प्रधानसेसंपर्ककररहेहैं।जिससेरोजानाउनकोगांवमेंहीरोजगारमिलसके।यहमजदूरइसवजहसेपरेशानहैंक्योंकिहालातकबतकसामान्यहोंगेऔरइनकीवापसीकबतकमहानगरोंकीओरहोगीयहवहनहींजानतेहैं।बोलेजिम्मेदार..

प्रवासियोंकीहरसुविधापरध्यानदियाजारहाहै।उन्हेंशासनकीयोजनाओंकालाभदिलानेकेलिएराशनकार्डबनाने,जाबकार्डबनानेसेलेकरखाद्यान्नतकमुहैयाकरायाजारहाहै।ब्लाकसेलेकरतहसीलतककेकर्मचारियोंसेकहदियागयाहैकिप्रवासियोंकीसुविधाओंपरविशेषध्यानदें।

-दिनेशकुमारसिंह,जिलाधिकारी।