संवादसूत्ररामगढ़:आधाआषाढ़माहबीतजानेकेबादभीबारिशनहींहोनेसेरामगढ़मेंपानीकीसमस्याविकरालरूपधारणकरचुकीहै।जिसकेचलतेलोगोंकोपानीकेलिएएकदूसरेकेघरआनाजानापड़रहाहै।रामगढ़प्रखंडक्षेत्रमेंऐसाकोईगांवनहींबचाहैजिसगांवमेंआधेसेअधिकहैंडपंपबंदनहोगएहो।जोचलभीरहेंहैंवोहुटकीलेरहेंहैं।बतायाजाताहैकिरामगढ़क्षेत्रमें300चापाकलबंदहोचुकेहैं।इनगांवोंकेलोगोंकोसबमर्सिबललगेघरोंमेंपानीलानेजानापड़रहाहै।ऐसीआफत1966केसूखेमेंभीनहींदेखीगईथी।बो¨रगमशीनभीफेलहोगईहैं।सबमर्सिबलसेपानीनिकालकिसानधानकेपौधेकोखेतोंमेंलगारहेहै।जिसकेकारणयहसमस्याबनतींजारहीहै।लगातारचापाकलोंकेगांवोंमेंबंदहोनेंकीसूचनामिलरहीहै।फिरभीप्रशासनसबमर्सिबलसेधानकीरोपाईकरनेपरप्रतिबंधनहींलगारहाहै।आधाआषाढ़बीतगयालेकिनमेघकेनहींबरसनेसेचौतरफापरेशानीबढ़गईहै।खेतोंमेंडालेगएधानकेबिचड़ेभीसूखनेलगेहैं।सबमर्सिबलसेखेतोंमेंलगाएगएपौधेभीरिमझिमबारिशनहींहोनेसेविकासनहींकररहेंहैं।सूखेकासामनाकररहेकिसानोंकेऊपरअबअकालकीछायामंडरानेलगीहै।नदी,नाला,तालतलैयासबपानीकेप्यासेहैं।जलस्तरकोस्थिररखनेकेकामआनेवालीनदियोंकेरेतउड़रहेंहैं।इसमहीनेमेंजोनदीजहांउफनातीरहतीथी,वहींनदीकेरेतपरजानेवालेलोगोंकेपांवमेंछल्लापड़जारहेंहैं।गोड़सराकेजनार्दनयादव,संतोषतिवारी,दिवाकरतिवारी,रामगढ़केरूपेशचौधरी,नथुआंकेआर¨वदपांडेय,बंदीपुरकेपैक्सअध्यक्षलोहाचौधरी,सोनुगुप्तासहितकईलोगोंनेबतायाकिहमारेयहांएकसप्ताहसेचापाकलपानीदेनाबंदकरदिएहैं।इनलोगोंनेयहभीबतायाकिबो¨रगमशीनभीफेलहोरहीहैं।वहीपंपवमशीनअभीचलरहाहै।जिसकाडेढ़सौफीटसेनीचेकालेयरमिलाहै।वहभीसबमर्सिबलहैतब।अन्यपानीकेलिएलगेउपकरणबंदहोचुकेहैं।इससंबंधमेंपूछेजानेपरबीडीओजनार्दनतिवारीनेबतायाकिचापाकलोंकेजवाबदेनेकीसूचनाकुछजगहोंसेमिलीहै।

By Farrell