जागरणसंवाददाता,जयपुर।राजस्थानकेअलवरजिलेमेंस्थितसरिस्काटाइगररिजर्वमेंबाघोंकीसुरक्षाबढ़ाईगईहै।886वर्गकिलोमीटरमेंफैलेसरिस्काटाइगररिजर्वमेंबाघोंसहितअन्यवन्यजीवोंकीसुरक्षाकेलिएसरकारनेदिन-रातनिगरानीकेलिए60वनरक्षक,होमगार्डके90औरबॉर्डरहोमगार्डके108जवानोंकोतैनातकियाहै।येसभीअलग-अलगशिफ्टमेंवन्यजीवोंविशेषकरबाघोंपरनजररखतेहैं।प्रत्येकबाघपरनजररखनेकेलिएमॉनिटरिंगटीमतैनातकरनेकेसाथही16वॉचटावरसेअधिकारीनिगरानीरखतेहैं।बाघोंपरनिगरानीकेलिएपेड़ोंपरकरीब500कैमरेभीलगाएगएहैं।दरअसल,सुंदरताऔरबाघोंसहितअन्यवन्यजीवोंकीअधिकताकेकारणकभीसरिस्काटाइगररिजर्वपूरेदेशमेंप्रसिद्धथा,लेकिनसाल2005मेंयहपूरीतरहसेबाघविहीनहोगयाथा।

शिकारियोंनेएक-एककरकईबाघोंकाशिकारकिया।कुछबाघोंकीरिजर्वएरियामेंबसेगांवोंकेलोगोंसेझड़पहुई।ग्रामीणोंनेबाघसहितअन्यवन्यजीवोंकोगांवोंमेंआनेसेरोकनेकेलिएकंटीलेतारलगादिएथे।जिनमेंफंसकरकुछबाघोंकीमौतहुईथी।करीबपांचसालपहलेफिरसरिस्काकोबाघोंसेआबादकरनेकानिर्णयलियागया।उसकेबादसेअबतकयहांबाघोंकोविस्थापितकियागयाहै।इनमें10बाघिन,छहबाघऔरसातशावकशामिलहैं।रणथंभौरटाइगररिजर्वसेदोऔरबाघोंकोयहांविस्थापितकरनेकीयोजनाहै।क्षेत्रफलकेलिहाजसेसरिस्कामें40बाघरहसकतेहैं।

गांवोंकेविस्थापनकीप्रक्रियातेजहुई

बाघोंकाकुनबाबढ़नेकेसाथहीसरकारनेरिजर्वएरियामेंबसेगांवोंकोविस्थापितकरनेकीप्रक्रियाभीतेजकरदीहै।सरिस्काकेजंगलक्षेत्रमें29गांवबसेहैं।कईसालकीमशक्कतकेबादइनमेंसेअबतकमात्रआठगांवकेलोगोंकोदूसरीजगहविस्थापितकियाजासकाहै।दोगांवोंकाविस्थापनप्रक्रियामेंहै।वनमंत्रीसुखरामविश्नोईकाकहनाहैकिवन्यजीवोंविशेषकरबाघोंकीसुरक्षाकेलिएकर्मचारियोंकोप्रशिक्षणदियाजारहाहै।यहांहरियालीअधिकहोनेकेकारणवन्यजीवआरामसेरहसकतेहैं।

चारदिवारीकाहोरहानिर्माण

886वर्गकिलोमीटरमेंफैलेसरिस्कारिजर्वमेंकोईपेरिफेरीनहींहै।ऐसेमेंखुलेआमलोगोंकीआवाजाहीहोतीहै।जंगलमेंप्रवेशकेकईरास्तेहैं।जंगलकेबीचमेंहोकरअलवर-जयपुरराज्यराजमार्गगुजरताहै।इसकारणशिकारकीहमेशाआशंकारहतीहै।साल2005मेंबाघोंकेजोशिकारहुएथेउसमेंभीयहमानागयाथाकिजंगलकेबीचमेंसेसड़कगुजरनेकेकारणशिकारियोंकोशिकारकरनेमेंआसानीरहतीहै।इसकारणअबराजमार्गकीतरफ250किलोमीटरलंबेबाहरीक्षेत्रमेंचारदीवारीकानिर्माणकरानेकानिर्णयलियागयाहै।अबतक25किलोमीटरलंबीचारदीवारीकानिर्माणपूराहोचुकाहै।