रांची,जासं।राजधानीरांचीस्थितसर्जनाचौकसेशहीदचौकतकवेंडरफिरसेदुकानेंलगानेलगेहैं।दुकानदारपहलेकीतरहफिरसेसड़कएवंफुटपाथपरदुकानेंसजारहेहैं।कपड़ेसेलेकरबैगतककीदुकानेंएककतारमेंलगरहीहैं।इसवजहसेपैदलचलनेवालेलोगोंकोआवागमनमेंदिक्कतहोरहीहै।सर्जनाचौकसेलेकरकचहरीचौकइलाकेकोनावेंडिंगजोनबनानेकेलिएरांचीनगरनिगमद्वाराकरीब450दुकानदारोंकोअटलस्मृतिवेंडरमार्केटमेंस्थानदियागयाहै।

कुछदिनोंतकस्थितिठीकठाकरही।लेकिनअबफिरसेवहीस्थितिउत्पन्नहोगईहै।अल्बर्टएक्काचौककेपास20-25दुकानदारफुटपाथपरअपनीदुकानलगाकरबैठतेहैं।शहीदचौकइलाकेमेंभीबैग,कपड़े,दुपट्टा,आदिकी10-15दुकानेंसड़कपरसजरहीहैं।सर्जनाचौककाभीयहीहालहै।इधर,दुर्गापूजाभीकरीबहै।कुछदिनोंमेंबाजारमेंभीड़बढ़नेलगेगी।ऐसेमेंजबलोगोंकोचलनेकेलिएसड़केंहीनहींमिलेंगीतोस्थितिकाफीअफरा-तफरीकीरहेगी।

दुकानदारोंनेकहा-आश्वासनदेकरवादेसेमुकरगयानिगम

अल्बर्टएक्काचौककेपासफुटपाथपरकपड़ोंकीदुकानलगानेवालेएवंशहीदचौककेपासबैग,बेल्ट,कपड़ेआदिकीदुकानलगानेवालेराजेशसाव,मो.शमशाद,मो.नौशादआलम,मो.तबरेज,मो.सोनूआदिकाकहनाहैकिवेवर्षोंसेयहांदुकानलगातेआरहेहैं।वर्ष2016मेंजबसर्वेहुआथा,तबनिगमद्वाराउन्हेंपर्चीदीगईगईथी।साथहीआश्वासनदियागयाथाकिउन्हेंवेंडरमार्केटमेंदुकानलगानेकेलिएस्थानदियाजाएगा।लेकिनबादमेंनिगमअपनेवादेसेमुकरगया।अबदुकानदारोंकाआरोपहैकिवेंडरमार्केटमेंचेहरादेखकरदुकानेंआवंटितकीगईहै।खैनीबेचनेवालोंतककोदुकानेंमिलगईं।लेकिनउनलोगोंकोआजतकदुकानेंनहींमिलीहैं।पुलिसजबतकदबिशदेतीहै,तोभागनापड़ताहै।कभीपकड़ेजानेपर500रुपयेतककाजुर्मानावसूलाजाताहै।

वेंडरमार्केटमेंअभीभीखालीहैं69दुकानें

अटलस्मृतिवेंडरमार्केटमेंअभीभी69दुकानेंखालीहैं।इनदुकानदारोंकाकहनाहैकिनिगमसेउनखालीदुकानोंकोहीआवंटितकरनेकेलिएकईबारगुहारलगाचुकेहैं।लेकिनकोईसुनवाईनहींहोरहीहै।अगरउनदुकानोंकोहीहमेंआवंटितकरदियाजाय,तोहमारीसमस्याओंकासमाधानहोजाएगा।फुटपाथऔररास्तेपरभीड़भीनहींबढ़ेगी।

आवंटितदुकानकिरायेपरलगाकरफुटपाथपरव्यवसायकररहेकईलाभुक

इधर,जानकारीकेमुताबिकवेंडरमार्केटमेंऐसीकईदुकानेंहैं,जिन्हेंलाभुककिरायेपरलगाकरवापसफुटपाथऔरसड़कोंपरदुकानेंलगाकरव्यवसायकररहेहैं।अल्बर्टएक्काचौकसेरांचीविविकीओरजानेवालीगलीमेंकईदुकानदारऐसेहैं,जोसुबह-सुबहयहांअपनीदुकानेंफुटपाथपरलगातेहैं।जबकिउन्हेंवेंडरमार्केटमेंजगहदेदीगईहै।

By Elliott