वाराणसी,जेएनएन।कोरोनासंक्रमणकीदूसरीलहरकेबीचसंक्रमितमरीजोंकोसांसलेनेमेंदिक्कतआमहै।अस्पतालोंमेंबेडकेलिएलंबीलाइनलगीहै।इसबीचरेमडेसिविरइंजेक्शनकाऐसाहव्वाउठाकिहरकोईइसेपानेऔरइसकेलिएकोईभीकीमतचुकानेकोतैयारहै।बिनासमझे-बूझेइसकीबेतहाशामांगकाफायदाउठाकरकालाबाजारीभीखूबहोरहीहै।इसकेलिए15से20हजारहीनहींइससेभीअधिककीमतचुकानेकोलोगतैयारहोरहेहैं।मगरध्यानदेनेवालीबातयेहैकिविश्वस्वास्थ्यसंगठननेनवंबर2020मेंअपनीसंशोधितगाइडलाइनसेइसेबाहरकरदियाथा।कहनेकाआशययहकिप्लाज्माथेरेपीकीतरहरेमडेसिविरकीभीउपयोगितानहींरही।

दरअसल,रेमडेसिविरमाइल्डएंटीवायरलमेडिसिनहै।बहुतजरूरीसमझनेपरकमआक्सीजनलेवलवालेमरीजोंकोचिकित्सकयहदेतेहैं।वरिष्ठटीबीएवंचेस्टरोगविशेषज्ञडा.एसकेअग्रवालबतातेहैंकिइसकाछहइंजेक्शनकाहीकोर्सहैलेकिनकईलोगपतानहींकैसे10-10इंजेक्शनतकअपनेमरीजोंकोलगवारहेहैं।विश्वस्वास्थ्यसंगठननेट्रायलकियाथा,कोविडमरीजोंकेएकग्रुपकोरेमडेसिविरदियागयादूसरेकोनहीं।28दिनबाददोनोंहीग्रुपमेंमृत्युदरएकजैसीरही।यानीरेमडेसिविरनतोमृत्युदरकमकरताहैऔरनहीकिसीतरहकाफायदाहीपहुंचाताहै।डा.अग्रवालबतातेहैंकियहनईदवानहींहै।रेमडेसिविरकासबसेपहलेहेपेटाइटिस-सीकेलिएउपयोगकियागयाथा।इसकेबादइबोलाऔरअबयहकोरोनामेंइस्तेमालहोरहाहै।

शुरूमेंहीपहचानेंलक्षण

कोरोनासंक्रमणकालक्षणशुरूमेंहीपहचानलेनाश्रेयस्करहै।शुरूमेंलोगइसेटायफाइडयावायरलबुखारसमझनेकीगलतीकरबैठतेहैं।लक्षणकेचौथे-पांचवेंदिनसांसफूलनेलगतीहै।ऐसेमामलेमेंपल्सआक्सीमीटरसेआक्सीजनकास्तरमापतेरहें।आक्सीजनकास्तर94सेकमहोतोअलर्टहोजाएं।नजदीकीअस्पतालसेयाकोविडकमांडसेंटरसेअस्पतालमेंभर्तीहोनेकेलिएसंपर्ककरें।

सहीसमयपरस्टेरायडहैरामबाण

आक्सीजनस्तरकमरहनेपरमरीजकोतीनसेपांचलीटरआक्सीजनप्रतिमिनटदियाजाताहै।सहीसमयपरउचितमात्रामेंडेक्सामेथासोनयाअन्यस्टेरायडदेनेसेमरीजकोलाभमिलताहै।अमूमनलक्षणकेआठवेंदिनकेबादहीमरीजकेस्वास्थ्यकोदेखतेहुएडाक्टरस्टेरायडदेतेहैं।इससेपहलेदेनेपरयहखतरनाकसाबितहोसकताहै।

लिवरकोडैमेजकरताहैरेमडेसिविर

-रेमडेसिविरलिवरकोतेजीसेकमजोरकरताहै,जिससेमरीजकोपीलियाहोजाताहै।उल्टीहोनेलगतीहैऔरभूखभीनहींलगती।यानीकोरोनासेपहलेगंभीरमरीजकीपीलियासेमौतहोसकतीहै।

By Dunn