सुलतानपुर:लघुवसीमांतकिसानोंकेलिएबजटमेंकीगई6हजाररुपयेवार्षिकसहायताकीघोषणाअधिकांशकिसानोंकेलिएराहतवालीसाबितहुईहै।जिलेमेंबहुसंख्यककिसानछोटीजोतकेहैं।दोहेक्टेयरसेकमरकबेवालेकिसानोंकोदोहजाररुपएकीतीनकिश्तोंमेंदीजानेवालीआर्थिकसहायतातकरीबनहरकिसानकोमिलेगी।

कृषिविभागकेआंकड़ोंमेंकुल3लाख82हजार3सौ32किसानकेरूपमेंदर्जहैं।विभागकामाननाहैकिइनमेंसे96प्रतिशतलघुवसीमांतकिसानहैं।शेष4प्रतिशतहीबड़ेकाश्तकारहैं।छोटीजोतकेकिसानोंकेलिएखेतीहीआजीविकाकासाधनहै।यहांपरंपरागतखेतीपरहीकिसानीटिकीहुईहै।नहरोंकासंजालहैऔरकुलआच्छादितक्षेत्रफलका46प्रतिशतभूभागनहरोंसेसींचाजाताहै,लेकिन¨सचाईविभागकीहीलाहवालीऔरनहरोंकीजर्जरस्थितिसेसमयपरपानीनहींमिलता।खादऔरबीजकेलिएकिसानजूझतेहैं।ऐसेमेंबजटमेंकीगईघोषणाभलेहीबहुतबड़ीनहो,परछोटेकिसानकेलिए6हजाररुपएसालानामिलनाकिसानोंकोराहतदेनेवालाहोगा।

By Farrell