नागौरकेश्रीबालाजीमेंमंगलवारसुबहहुएसड़कहादसेमें12लोगोंकीमौतहोगई।घायलोंकोबीकानेरकेPBMअस्पतालमेंभर्तीकियागयाहै।इसबीचअस्पतालकेट्रॉमासेंटरमेंगोपालनामकाशख्सइधरसेउधरबदहवासघूमतारहा।वहकभीगाड़ीकेड्राइवरसंतोषकोसंभालतातोकभीसंतोषकेबेटेसुमितको।वहएकबच्चीकोभीसम्भालरहाथा,जोबेहोशथी।बच्चीबार-बारअपनाऑक्सीजनमास्कहटारहीथी।

दैनिकभास्करसेबातचीतमेंगोपालनेबतायाकिहमरातकोसफरकरकेआएथे।सुबहहमनेएकजगहआरामकिया।वहांसेनिकलेतोकुछहीदेरमेंसामनेसेट्रकआगया।मैंपीछेबैठाथा,सोचासंतोषनिकाललेगा।अचानकजोरसेटक्करलगी।संतोषकेकिनारेवालाहिस्साट्रककेबीचमेंजाधंसा।मैंसबसेपीछेबैठाथा।उछलकरबाहरआगिरा।मेरेपासहीसंतोषकाबेटासुमितभीथा।हमदोनोंबाहरगिरगए।उठातोदेखाकईलोगअंदरफंसेहुएथे।मैंलोगोंकोनिकालनेमेंलगा,लेकिनकोईबाहरनिकलाहीनहीं।कुछसमझमेंहीनहींआरहाथाकिक्याकरूं।इसकेबादकुछलोगआए।मेरेसिरसेभीखूनबहरहाथा।एक-एककरलाशेंबाहरनिकलतीरहीं।

एकहीगांवसेहैं,तीर्थकररहेथे

गोपालनेबतायाकिवहअक्सरइसतरफआतारहताहै।द्वारकाधीश,करणीमाताजी,रामदेवराकेदर्शनकरवाताहै।गांववालोंनेपिछलेदिनोंजानेकीइच्छाजताईतोहमइन्हेंलेआए।रामदेवराकेदर्शनकरलिएथे।अभीपुष्करजारहेथे।सुबहएकजगहआरामकिया,फिररवानाहुए।घायलोंमेंअधिकतरसज्जनखेड़ाकेहैं,कुछसवारीउज्जैनसेमिलगईथी।सभीलोगसज्जनखेड़ाकेअलग-अलगपरिवारसेहैं।

ड्राइवरसंतोषकाइलाजजारी

गाड़ीकेड्राइवरसंतोषकेसिरऔरआंखकेपासचोटआईहै।उसकेमुंहपरकईजगहकांचचुभगएहैं।इन्हेंट्रॉमासेंटरकेरेजिडेंट्सडॉक्टर्सनेनिकाला।उधर,बच्चीसुमनकीहालतगंभीरहै।वहबार-बारअपनाऑक्सीजनमास्कहटारहीहै।पासकेरोगीऔरउनकेपरिजनहीउसकाख्यालरखरहेहैं।

ड्राइवरसंतोषकाबेटासुमितमहज5सालकाहै।वहट्रॉमासेंटरमेंबेहोशपड़ाहै।उसकेपासएकमहिलाभीऐसीहीहालतमेंहै।उधर,उज्जैनसेकुछलोगअस्पतालमेंलगातारसंपर्ककररहेहैं।ट्रॉमासेंटरकेकर्मचारीलगातारउन्हेंअपडेटदेरहेहैं।

राजस्थानमेंभीषणसड़कहादसा:करणीमाताकेदर्शनकरलौटरहेMPके12लोगोंकीमौत;केंद्रवराज्यसरकारमृतकोंकेपरिजनोंकोदेगी2-2लाखरुपएमुआवजा

12कीमौत,घायलोंकेदर्दसेगूंजाअस्पताल:8नेमौकेपरदमतोड़ा,तीनकीनोखामेंइलाजसेपहलेहीमौत;7घायलोंकोबीकानेरभेजा,पहुंचनेसेपहलेएकऔरनहींरहा

By Dyer