देहरादून,जेएनएन। कोरोनासंक्रमणकेचलतेलागूहुएलॉकडाउनकेबादसोमवारकोकरीब7महीनेबादप्रदेशभरमेंस्कूलदोबाराखुलगएहैं।फिलहालकेवलबोर्डकक्षाकेछात्रछात्राओंकेलिएस्कूलखोलेगएहैं।हालांकिस्कूलपहुंचनेवालोंवालेछात्र-छात्राओंकीसंख्याबेहदकमहै।सरकारीऔरनिजीस्कूलोंकाऔसतदेखेंतबभीपहलेदिनकीउपस्थिति15करीबफीसदकेकरीबहीपहुंचसकी।मुख्यशिक्षाअधिकारीआशारानीपैन्यूलीनेबतायाकिपहलेदिनदेहरादूनजिलेके515मेंसे330स्कूलखुले।इसमें166मेंसे156राजकीयइंटरऔरहाईस्कूल,57मेंसे52अशासकीयस्कूलऔरसभी11मेंसे11केवीभीखुले।निजीस्कूलोंकाग्राफइसमेंकाफीपिछड़ारहा219निजीस्कूलोंमेंसेमात्र58हीखुले।

सरकारीस्कूलतोखुलेपरछात्रकमआए

देहरादूनकेलगभगसभीसरकारीऔरसहायताप्राप्तअशासकीयस्कूलसोमवारसेखुलगएहैं।स्कूलोंमेंकोरोनासंक्रमणसेबचावकेलिहाजसेपूरीतैयारियांभीदिखी।गेटपरछात्र-छात्राओंकेथर्मलस्क्रीनिंगकेबादहीउन्हेंअंदरभेजागया।कक्षाओंमेंभीछात्रछात्राओंकोएकदूसरेसेदूरीरखतेहुएबैठायागयाथा।सभीमास्कपहनकरपढ़ाईकररहेथे।वहीं,शिक्षकभीगाइडलाइंसकापूराध्यानरखरहेथे।कुछस्कूलोंमेंऑफलाइनपढ़ाईकेसाथऑनलाइनपढ़ाईजूमयागूगलमीटएपकेमाध्यमसेकरवाईजारहीथी।निजीस्कूलोंकेमुकाबलेसरकारीस्कूलोंमेंपहलेदिनछात्र-छात्राओंकीसंख्याभीज्यादादेखनेकोमिली।हालांकिछुट्टीहोनेकेबादयहतारतम्यटूटतादिखा।कईछात्र-छात्राएंअपनेदोस्तोंसेमिलनेकीखुशीरोकनहींपाएऔरशारीरिकदूरीकेसभीनियमोंकोभूलगए।

निजीस्कूलोंमेंभीपूरेबंदोबस्त

दूनकेनिजीस्कूलोंपरनजरडालेंतोपहलेदिनगिनेचुनेस्कूलहीखुलेथे।इसमेंभीछात्रसंख्याबहुतकमदेखनेकोमिली।स्कूलोंमेंसंक्रमणकीरोकथामकेलिहाजसेबंदोबस्तपूरेदिखे।गेटपरछात्रोंकीथर्मलस्क्रीनिंगसेलेकरछुट्टीकेवक्तउन्हेंअलग-अलगकरबाहरभेजनेतककीव्यवस्थास्कूलोंनेबनारखीथी।स्कूलोंमेंट्रांसपोर्टकोलेकरस्कूलोंकीकरसेफिलहालकोईव्यवस्थादेखनेकोनहींमिली।पहलेदिनज्यादातरअभिभावकोंनेखुदअपनेबच्चोंकोस्कूलतकछोड़ा।कईबच्चेखुदसाइकिलयास्कूटीचलाकरभीस्कूलपहुंचे।हालांकियहांभीछुट्टीहोनेकेबादछात्रोंशारीरिकदूरीकेनियमोंकोजेबमेंरखकरहीघरकीओरप्रस्थानकिया।

केंद्रीयविद्यालयोंमेंदोशिफ्टमेंचलीक्लास

छात्र-छत्राओंमेंकमसेकमकॉन्टैक्टहोइसकेलिएकेंद्रीयविद्यालयमेंदसवींऔरबारहवींकेछात्रछात्राओंकेलिएअलग-अलगटाइमटेबलतैयारकियागयाहै।दसवींकक्षाकेछात्रछात्राओंकोसुबह9बजेसे11बजेऔरबारहवींकक्षाकेछात्रछात्राओंको12:30बजेसे3बजेकासमयदियागयाहै।इसमेंभीबच्चोंसेपूर्वमेंउनकीमनपसंदविषयपूछेगएहैं।पहलेदिनउन्हींविषयोंकीकक्षाएंचलाईगईहैं,जिन्हेंबच्चेपढ़नाचाहतेहैं।ऑफलाइनपढ़ाईकेअलावाकेंद्रीयविद्यालयोंमेंलाइवऑनलाइनपढ़ाईभीचलतीरही।

स्कूलमेंइनबातोंकारखनाहोगाख्याल

ज्यादातरआवासीयस्कूलफिलहालबंदरहेंगे

देहरादूनकेज्यादातरप्रतिष्ठितस्कूलफिलहालबंदहीरहेंगे।आवासीयस्कूलोंकीबातकरेंतोअभीतककेवलवेल्हमब्वायजकोहीस्कूलखोलनेकीअनुमतिमिलीहै।वहींहिमज्योतिस्कूलनेभीशिक्षाविभागकोअपनेस्कूलमेंनिरीक्षणकीअर्जीलगादीहै।उधर,ददूनस्कूल29नवंबरसेखुलनेकीघोषणापूर्वमेंहीकरचुकाहै।प्रभारीमुख्यशिक्षाअधिकारीवाईएसचौधरीनेबतायाकिअभीमात्रइन्हींदोआवासीयस्कूलोंकीओरसेअर्जीदीगईथी।हिमज्योतिस्कूलमेंभीजल्दटीमभेजदीजाएगी।दिवसीयस्कूलोंकीबातकरेंतोसेंटजोसेफ,ब्राइटलैंड,सेंडजूड्ससमेतअन्यप्रतिष्ठितस्कूलफिलहालबंदहीरहेंगे।स्कॉलर्सहोमनेआजसेबोर्डकक्षाकेछात्रछात्राओंकेलिएस्कूलखोलनेकाफैसलालियाहै।स्कॉलर्सहोमकीचेयरमैनछायाखन्नानेबतायाकियहएकएक्सपेरिमेंटहै।अगरछात्रस्कूलआनेमेंरुचिदिखातेहैं,तबहीस्कूलआगेभीखोलाजाएगा।

यहभीपढ़ें:सीएमत्रिवेंद्रसिंहरावतबोले,डिग्रीबांटनेतकसीमितनरहेंविश्वविद्यालय