मुजफ्फरपुर:शहरकाउत्तरप्रवेशमार्ग,अखाड़ाघाटरोडमेंपैदलचलनेवालोंकोजगहनहींमिलरहीहै।वहभीतबजबयहशहरकीसबसेचौड़ीसड़कहै।इसकाहालयहहैकिपैदलचलनेवालेहोंयावाहनसवार,बिनाजाममेंफंसेआगेबढ़हीनहींसकते।कारण,सड़ककिनारेकीजमीनकोतोछोड़दीजिएफुटपाथवसड़ककेएकचौथाईहिस्सेपरअतिक्रमणकारियोंकाकब्जाहै।

अखाड़ाघाटपुलसेसिकंदपुरमोड़तकइससड़कपरयातायातकाभारीदबावहै।वाहनोंकेसाथ-साथपैदलयात्रीभीबड़ीसंख्यामेंइससड़कसेआते-जातेहैं।इसपरपैदलचलनाभीमुश्किलहै।सड़ककाएकहिस्सासब्जीमंडीबनचुकाहै।एकयादोनहींसौसेअधिकदुकानेंसुबह-शामसड़कपरहीसजतीहैं।सब्जीबेचनेवालोंनेयहांएकतरहस्थायीदुकानेंबनालीहैं।सड़ककेएकहिस्सेमेंफुटपाथपरईंट,बालूवगिट्टीकीदुकानेंसजतीहैं।इनकोलोडकरनेयाउतारनेकेदौरानसड़कपरजामकीस्थितिबनजातीहै।सैकड़ोंकीसंख्यामेंचाय-पान,नाश्ता-भोजनवअन्यदुकानेंसड़कपरअवैधरूपसेखुलीहैं।इनपरग्राहकोंकेवाहनरुकतेहैंतोपैदलचलनेवालोंकोसड़ककेबीचसेहोकरगुजरनापड़ताहै।यहांस्थायीदुकानदारोंनेभीअपनासामानफुटपाथपरहीसजारखाहै।

साल-दोसालपरचलताअतिक्रमणहटानेको,वहभीबेअसर

अखाड़ारोडसेअतिक्रमणहटानेकेलिएनगरनिगमसाल-दोसालपरएकबारअभियानचलाताहै।इसकेचलनेपरअतिक्रमणहटजाताहै,लेकिनदो-चारदिनबारफिरपहलेजैसीस्थितिहोजातीहै।सड़ककोअतिक्रमणसेमुक्तकरानेकेलिएनगरनिगमनेसड़ककेकिनारेकीखालीजमीनमेंवेंडिंगजोनबनानेकीघोषणाकी,लेकिनवहजमीनपरनहींउतरी।वहकागजोंपरहीबनकररहगई।शहरकीमुख्यसड़कहोनेकेबादभीप्रशासनइसेबेरोकटोकचलनेलायकनहींबनासका।

अखड़ाघाटसेगुजरनेवालोंकोपैदलचलनेकेलिएसुरक्षितजगहनहींमिलपाती।फुटपाथकालोगव्यावसायिकउपयोगकररहेहैं,लेकिनइसकीपरवाहनतोजिलाप्रशासनकोहैऔरनहीनगरनिगमको।प्रशासनकोसख्तकदमउठानाचाहिए।

विजयकुमारसिंह,सिकंदरपुरअखाड़ाघाटरोडशहरकाप्रवेशमार्गहै।इससेहजारोंकीसंख्यामेंनसिर्फवाहनबल्किपैदलचलनेवालेगुजरतेहै।सड़कपूरीतरहअतिक्रमणकारियोंकेकब्जेमेंहै।लोगोंकोपरेशानीहोरही,लेकिनप्रशासनलापरवाहबनाहै।

सोहनलालकर्ण,नाजीरपुर

By Doherty