रविकुमार,गुरदासपुर

शहरकीखस्ताहोचुकीसड़कोंकीहालतमेंतोसुधारकियाजारहाहै।लेकिनअभीतकशहरकेसबसेव्यस्तरोडोंमेंजानेजातेजेलरोडकीखस्ताहालतहोतीजारहीसड़ककीतरफकोईध्याननहींदियाजारहाहै।इसकारणयहरोडअनदेखीकाशिकारहोनेकेचलतेअपनीबदहालीपरआंसूबहारहाहै।इसरोडकीखस्ताहालतअबकीनहींबल्किकईवर्षोंसेचलीआरहीहै।हालांकिसंबंधितविभागकीओरसेसमय-समयपरसड़कमेंपड़तेगड्ढोंमेंघटियामटीरियलडालदियाजाताहै।लेकिनजबकभीभीबारिशहोतीहैतोयहगड्ढेफिरसेअपनामूंहखोललेतेहै।

खस्ताहालतसड़ककेकारणकईबारदोपहियावाहनगिरकरचोटिलभीहोचुकेहैं।गौरतलबहैकिजिलाप्रबंधकीयकांप्लेक्समेंजानेकेलिएअधिकतरलोगजेलरोडकाहीरास्ताअपनातेहैं।इसकेअलावाकेंद्रीयजेलभीइसीरोडपरहै,जबकिदीनानगरक्षेत्रमेंजानेकेलिएभीकाफीलोगजेलरोडसेहोकरगुजरतेहैं।ऐसेमेंजेलरोडमार्गपरगड्ढोंकीभरमारहोनालोगोंकेलिएमुसीबतबनचुकाहै।ऐसेमेंलोगभीप्रशासनऔरसरकारकेप्रतिनिधियोंकोकोसतेहुएदिखाईदेतेहैं।लोगोंमेंभय,कहींगिरनजाए

जेलरोडपरअलगअलगप्रकारकीदुकानेंवइंस्टीट्यूटहैं,जहांपरअक्सरहीअपनेकामकेसिलसिलेमेंलोगआतेहैं।मगरउन्हेंतबपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ताहै,जबवहइसमार्गसेगुजरतेहैं।इसमार्गसेगुजरतेसमयउन्हेंइसीबातकाभयबनारहताहैकिकहींवोगिरनजाए।हालाहिमेंकुछदिनपहलेएकमहिलास्कूटरीपरजारहीथी,मगरअचानकसेखस्ताहालतहोचुकीसड़ककेकारणवोफिसलते-फिसलतेहुईबची।यदिवोगिरजातीतोकोईबड़ीघटनाघटितहोसकतीथी।लगातारहोरहेहादसे

जेलरोडपरगड्ढोंकीवजहसेलगातारहादसेहोरहेहैं।एकदोमाहपहलेदोबाइकसवारयुवकोंकीगड्ढोंकीवजहसेआपसमेंटकरागए।जबकिएकमाहपहलेभीपैदलजारहाएकव्यक्तिगड्ढेमेंपैरपडऩेसेगिरकरघायलहोगया।ऐसेरोजहादसेहोरहेहैं,जिनसेसीखलेतेहुएसरकारकेप्रतिनिधियोंऔरप्रशासनकेअधिकारियोंकोतुरंतगड्ढोंकोभरनाचाहिए।दुकानदारपरेशान

जेलरोडपररहनेवालेएडवोकेटडीआरशर्मा,अमनमहाजन,अभयमहाजन,जोगिदरसिंहआदिनेकहाकिबड़े-बड़ेगड्ढेउन्हेंकाफीपरेशानकररहेहैं।उन्होंनेकहाकिबारिशकेदिनोंमेंहालातऔरभीबदतरहोजातेहै।जिसकारणलोगउनकीदुकानेंपरआनेकीबजाएशहरकीअन्यदुकानोंपरचलेजातेहै।इससेउनकाकारोबारप्रभावितहोतीहै।उन्होंनेसरकारऔरप्रशासनिकअधिकारियोंसेमांगकीआगईसड़ककीतुरंतमरम्मतकरवाईजाए।विधायकबोले-जल्दकियाजाएगासुधार

उधरहलकाविधायकबरिदरमीतसिंहपाहड़ानेकहाकिशहरकीसड़कोंकीहालतमेंसुधारकियाजारहाहै।जल्दहीइसरोडकीहालतमेंसुधारकियाजाएगाताकिलोगोंकोकिसीपरेशानीकासामनानकरनापड़े।

By Douglas