जागरणसंवाददाता,खगड़िया:सदरअस्पतालमेंकोरोनाकीतीसरीलहरकोदेखतेहुएहरस्तरपरतैयारियांचलरहीहै।जिसकोलेकरबीतेदिनोंडीएमआलोकरंजनघोषनेसदरअस्पतालकानिरीक्षणकरव्यवस्थाकीजानकारीलीथीतथाकईआवश्यकनिर्देशभीदिएथे।सदरअस्पतालकीव्यवस्थाकोमजबूतबनायाजारहाहैकितीसरीलहरमेंलोगोंकोसमस्याकासामनानकरनापड़े।बच्चोंकेलिएभीखासव्यवस्थाकीगईहै।सदरअस्पतालमेंबच्चोंकेइलाजकेलिएपीडियाट्रिकवार्डबनाएगएहैं।एचडीयूमेंआठबेडऔरडायरियाकेलिएचारबेडलगाएजारहेहैं।जोलगभगबनकरतैयारहैजल्दहीइसेशुरूकरदियाजाएगा।इसवार्डमेंबच्चोंकेइलाजकेलिएअत्याधुनिकउपकरणलगाएगएहैं।साथहीवार्डमेंखेलकूदऔरबच्चेकेमनोरंजनकीभीव्यवस्थाकीगईहै।एसएनसीयूभीअस्पतालमेंसंचालितहै।बच्चोंकेलिएभीकोरोनावार्डबनाएगएहैंजहांबच्चोंकाबेहतरइलाजकियाजासके।

------एसएनसीयूमेंलगाएगएहैं12रेडिएंटवार्मरबेडसदरअस्पतालमेंएसएनसीयूमेंनवजातशिशुकेउपचारकेलिएतमामव्यवस्थाएंमौजूदहै।जिलेकेनवजातशिशुओंकेलिएएसएनसीयूसंजीवनीसाबितहोरहाहै।एसएनसीयूमेंतैनातशिशुरोगविशेषज्ञनरेंद्रकुमारकीमानेतोप्रत्येकमाहऔसतनसौसेसवासौबच्चोंकायहांइलाजकियाजाताहै।यहांअधिकांशवहबच्चेआतेहैं,जिनकीहालतकाफीगंभीरहोतीहै।जिसकेलिएएसएनसीयूमें12रेडिएंटवार्मरबेडलगाएगएहैं।जहांबच्चोंकीसंख्याअधिकहोनेपरएकबेडपरदोबच्चोंकोभीरखाजाताहै।यहजरूरीनहींहैकिएकबेडपरएकहीबच्चेरहेंगे।नवजातबच्चोंमेंजौंडिसहोजानेकीस्थितिमेंफोटोथेरेपीकीव्यवस्थाहै।नवजातबच्चोंमेंसबसेकोमनबीमारीऔरसबसेअधिकहोनेवालीबीमारबर्थएसफिक्सियाहै।इसकेकेसएसएनसीयूमें60प्रतिशततकआतेहैं।जिलेमेंप्रीमेच्योरबच्चेकीसंख्याभीअधिकहै।असमयप्रसवहोनेकेकारणऐसेबच्चोंकावजनकीकमहोजाताहै।एसएनसीयूवार्डमेंदोसीपेप,बायपेप,पल्सऑक्सीमीटर,मॉनिटर,सेंटरसप्लायफॉरऑक्सीजन,नेबुलाइजरकीसुविधाउपलब्धहै।कोट

बच्चोंकेबेहतरइलाजकेलिएवर्तमानमेंतीनचिकित्सकअस्पतालमेंकार्यरतहैं।डाक्टरनरेंद्रकुमार,डा.अमोदकुमारऔरएकमहिलाचिकित्सकहैंजोफिलहालअवकाशपरहैं।वहींआवश्यकतापड़नेपरसदरअस्पतालअधीक्षकऔरउपाधीक्षकदोनोंएसएनसीयूकीमोनिटरिगकरतेरहतेहैं।सदरअस्पतालमेंजरूरतपड़नेपरअनुबंधपरचिकित्सककीड्यूटीलगाईजाएगी।डा.अमरनाथझासदरअस्पतालअधीक्षक-------

जल्दबढ़ाईजाएगीएंबुलेंसकीसंख्याकोरोनासंक्रमणकोदेखतेहुएजिलेकेसदरअस्पतालमेंतैयारियांहरस्तरपरचलरहीहै।मरीजोंकोस्वस्थमेंइलाजकेलिएअस्पतालपहुंचानेकेलिएसदरअस्पतालमेंवर्तमानमेंतीनएंबुलेंससक्रियहैं।जबकीआवश्यकतासातएंबुलेंसकीहै।मालूमहोकिजिलेकेविभिन्नअस्पतालोंमेंकुल17एंबुलेंसकार्यरतहैं।सदरअस्पतालअधीक्षकडा.अमरनाथझानेबतायाकिवर्तमानमेंसदरअस्पतालमेंतीनएंबुलेंसकार्यरतहैंऔरजल्दहीस्वास्थ्यविभागद्वारानईएंबुलेंसमिलनेवालीहै।उन्होंनेकहाकिजरूरतपड़नेपरविभागमेंऐसेप्रावधानहैंकिअस्पतालकेखर्चपरनिजीएंबुलेंससेभीभाड़ेपरकार्यलिएजासकतेहैं।इसलिएघबरानेकीजरूरतनहींहैतमामसुविधाएंअस्पतालमेंमौजूदहै।

By Farmer