संवादसहयोगी,बादशाहपुर:सेक्टर-46व39केबीचफैलेकूड़ेसेलोगबेहदपरेशानहैं।लोगोंनेइसकीशिकायतकईबारनगरनिगमकेअधिकारियोंकेभीकरदीहै।निगमकेअधिकारीभीलोगोंकीशिकायतकोगंभीरतासेनहींलेरहेहैं।लोगोंमेंइनकूड़ेकेढेरसेबीमारीफैलनेकाअंदेशाबनाहुआहै।

सुभाषचौकसेहुड्डासिटीमेट्रोस्टेशनकेलिएजानेवालेमुख्यमार्गपरदोनोंतरफशामकेसमयखानेपीनेकीकाफीरेहड़ीलगतीहै।इनरेहड़ीपरलोगोंकीकाफीभीड़भाड़रहतीहै।रेहड़ीलगानेवालेअपनेपासडस्टबिनआदिनहींरखतेहैं।जिसकीवजहसेलोगखानेकेबादप्लेटआदिइधर-उधरफेंकदेतेहैं।

बख्तावरचौककेपासझाड़सागांवकादुर्गामंदिरभीहै।इसकेसाथहीसाइबरपार्कभीबनाहुआहै।इससाइबरपार्कमेंभीकईबड़ीकंपनियोंकेकार्यालयहैं।कईकालसेंटरभीहैं।इसमेंकर्मचारियोंकीकाफीअधिकसंख्याहै।सड़ककेदोनोंतरफफैलेकूड़ेकेकारणबीमारीफैलनेकाअंदेशाबनाहुआहै।

नगरनिगमकेपोर्टलपरभीकईबारशिकायतकरली।नगरनिगमजोन-तीनकेअधिकारियोंकोमेलकेमाध्यमसेभीशिकायतभेजीगईहै।अधिकारीसाफसफाईकरनेकेप्रतिबिल्कुलगंभीरतानहींदिखारहेहैं।सड़ककेदोनोंतरफफैलेकूड़ेसेसभीकोपरेशानीहोरहीहै।

लेफ्टिनेंटकर्नल(सेवानिवृत्त)सुरेशचंदयादव,सेक्टर-39एकतरफतोप्रशासनडेंगूकीरोकथामकेलिएलोगोंकोजागरूककरसाफ-सफाईपरध्यानदेनेकीबातकरताहै।वहींबख्तावरचौककेआसपासकूड़ेकेढेरलगेहुएहैं।कईबारशिकायतकरनेकेबादभीसाफसफाईपरध्याननहींदियाजारहाहै।यहांलगेकूड़ेकेढेरलोगोंकेलिएपरेशानीकासबबबनगएहैं।

अनूपयादव,सेक्टर-39

By Doyle