पूर्णिया।शहरमेंबारिशकेजमेपानीका'लॉकडाउन'लगगयाहै।हरगली-मुहल्लाडूबाहुआहै।बच्चे-बूढ़ेअबअपनेघरोंमेंकैदहोगएहैं।अन्यलोगोंकाभीघरोंसेनिकलनामुश्किलहोगयाहै।

आठदिनोंलगातारबारिशकेकारणशहरमेंजलजमावकीस्थितिभयावहरूपलेचुकीहै।जलजमावकास्तरबढ़ताहीजारहाहै।लोगोंकेघरोंमेंभीपानीघुसाहुआहै।बच्चे,बूढ़ेकिसीतरहघरमेंहीऊंचेस्थानपरसमयव्यतीतकररहेहैं।लोगदिन-रातपानीकेबीचगुजाररहेहैं।सड़कोंऔरगलियोंमेंनावचलानेकीनौबतआगईहै।

इधरनगरप्रशासनद्वाराजलनिकासीकेलिएकोईठोसकदमनहींउठायागयाहै।कईसरकारीकार्यालयऔरआवासतकपानीमेंडूबचुकेहैं।मत्स्यकार्यालयमेंकर्मियोंकेकार्यकक्षमेंपानीप्रवेशकरगयाहै।कर्मीकिसीतरहकुर्सीपरपैरऊपरकरकामकाजकररहेहैं।

लोगोंकेसामनेअभीसबसेबड़ासवालहैकिवेअपने-अपनेघरमेंघुसेपानीकोनिकासीकरनिकालेतोकहांनिकाले?चारोंओरपानीजमाहैऔरशहरकालगभगअधिकतरहिस्साजलजमग्नहै।कईजगहोंपरमुख्यसड़कपरपानीअबसड़ककेआरपारहोनेलगाहै।जहांकहींभीपानीअधिकजमाथावहांनिगमद्वाराकच्चानालाबनाकरपानीनिकासीकियागया,लेकिनअभीभीघुटनाभरपानीसड़कसेलेकरघरोंतकजमाहुआहै।लोगबारिशकेपानीसेजलजमावकेबीचबाढ़जैसेहालातमेंजीवनयापनकरनेकोमजबूरहैं।

बीमारीफैलनेकीआशंका

कईदिनोंसेजलजमावकेकारणलोगोंकोअबबीमारीकीआशंकासतानेलगीहै।कोरोनासंक्रमणकेबादगंदेपानीकेबीचरहीदिनसेलोगोंकोअबमच्छरजनितरोग,डायरिया,त्वचासंबंधितरोगहोनेलगाहै।वहींगंदेपानीकेबीचविषैलाजलीयजीवकाभीभयहोरहाहै।लोगोंकेघरोंमेंसांप,बिच्छूजैसेजलीयजीवप्रवेशकररहाहै।

By Farmer