जागरणसंवाददाता,कठुआ:करीबढाईमाहसेबंदशिक्षणसंस्थानोंकोखोलनेकोलेकरजारीअसमंजसकेबीचकठुआनगरपरिषदनेअगलेएकमहीनेतकशहरमेंसभीशिक्षणसंस्थानबंदरखनेपरसहमतिजताईहै।

दरअसल,सरकारनेशहरमेंस्कूलखोलेजानेकेलिएनगरपरिषदकोअधिकारदिएहुएहै,ताकिवेस्थानीयहालातकोदेखफैसलाले।नगरपरिषदकेप्रधाननरेशशर्मानेस्कूलखुलनेपरसमुदायमेंफैलनेकीआशंकाजतातेहुएअभीबंदरखनेपरहीसहमतिजताईहै।शिक्षाविभागनेशहरकेसभीस्कूलोंकेमुख्यअध्यापकोंएवंसंचालकोंकोनगरपरिषदकेप्रधानसेबंदरखनेकीसहमतिकोलिखितमेंलेनेकेनिर्देशजारीकिएहैं।इसकेचलतेशहरकीहदमेंकरीब50स्कूलोंकेसंचालकनगरपरिषदसेस्कूलबंदरखनेकोलिखितमेंलेरहेहैं।

नपप्रधाननरेशशर्मानेफिलहालएकमाहतकबंदरखनेकेनिर्देशजारीकरतेहुएअगलाफैसलातबकीस्थितिदेखनेकेबादकरनेकीबातकहीहै।उन्होंनेकहाकिमौजूदासमयमेंकोरोनामहामारीकीजोस्थितिहै,उसेदेखकरखासकरबच्चोंकीसुरक्षाकेसाथकोइसमझौतानहींकियाजासकताहै।अभीजिलेमेंप्रतिदिनकोरोनाकेमामलेआरहेहैं,दूसराशहरकेबाजारऔरदुकानेंभीखुलचुकीहै।इससेभीड़बढ़नेलगीहैं,जिसमेंजारीकोरोनामहामारीअबसमुदायमेंफैलनेकीआशंकासेइनकारनहींकियाजासकताहै।इसीकेमद्देनजररखतेहुएएकमहीनातकनपपरिषदकीहदमेंस्कूलबंदरखनेकाफैसलालियागयाहै,क्योंकिशहरमेंस्कूलखुलतेहीएकदमचारोंओरभीड़होनास्वाभाविकहै।

बहरहाल,ग्रामीणक्षेत्रमेंस्कूलखुलेंगेयानहींइसकाफैसलापंचायतप्रतिनिधिकरेंगे।जिलेमेंइससमय2हजारकेकरीबसरकारीएवंगैरसरकारीस्कूलोंकीसंख्याहैं।जिसमेंडेढ़हजारकेकरीबसरकारीएवंपांचसौकेकरीबनिजीस्कूलहैं,जहांडेढ़लाखकेकरीबविद्यार्थियोंकीसंख्याहैं।बाक्स---

नपहदमेंहै75स्कूल

जिलामुख्यालयपरनगरपरिषदकीहदमेंकरीब75स्कूलहैं,जहांपर20हजारकेकरीबविद्यार्थीशिक्षाग्रहणकररहेहैं।हालांकिसरकारनेकोरोनामहामारीकेचलतेस्कूलबंदहोनेकीस्थितिमेंवैकल्पिकतौरपरघरोंसेहीवाट्सएपपरऑनलाइनकक्षाएंशुरूकरनेकेआदेशजारीकिएहैं,लेकिनमोबाइलपरटूजीसुविधाहोनेकेकारणखासकरबच्चेइसकापूरालाभनहींलेपारहेहैं।इसमेंनिजीस्कूलअपनेपाठ्यक्रममोबाइलपरबच्चोंकोपूराकरानेमेंलगेहैं,लेकिनयेसिर्फवैकल्पिकव्यवस्थाहै।विद्यार्थीअभिषेककाकहनाहैकिजबस्कूलकोरोनाकेसंकटकेचलतेबंदहैंतोकमसेकमसरकारमोबाइलपर4जीकीसुविधादेकरइसकावैकल्पिकव्यवस्थाकरेंअन्यथाउनकायेसालशिक्षामेंपिछड़जाएगा।बाक्स----

अभिभावकभीबच्चोंकोस्कूलभेजनेकोतैयारनहीं

सरकारभलेहीस्कूलोंकोखोलनेकेलिएसभीतरहकेविकल्पढूंढनेकाप्रयासकररहीहै,लेकिनअभिभावकऐसेहालातमेंअभीअपनेबच्चोंकोस्कूलभेजनेकेलिएराजीनहींहैं।उनकाकहनाहैकिस्कूलमेंबच्चेकिसीभीतरहकेएहतियातनहींबरतपाएंगेआरनहीमास्कआदिपहननेकेलिएराजीहोंगे,वैसेभीकोईभीमातापिताअपनेबच्चोंकोऐसेखतरनाकहालातमेंस्कूलभेजनेकेलिएराजीनहींहोगा।अभिभावकरवींद्रकुमारकाकहनाहैकिबच्चोंकीसुरक्षाहरमातापिताकेलिएप्राथमिकतारहतीहै।दूसराजिलेमेंअभीबच्चेकोरोनासेसुरक्षितहैं,ऐसेमेंस्कूलभेजकरउनकेसाथरिस्कनहींलियाजासकताहै,वैसेभीजिलाअभीकोरोनासेमुक्तनहींहै,रोजमामलेआरहेहैं।

मौजूदाहालातकोदेखतेहुएसरकारनेचुनेगएप्रतिनिधियोंकीरायसेस्कूलखोलनेकाफैसलालेनेकेलिएआदेशजारीकिएहैं।इसीकेचलतेसभीस्कूलअबचुनेगएजनप्रतिनिधिकीसहमतिकेबादहीखोलनेकाफैसलालियाजाएगा।इसकेलिएसभीस्कूलसंचालकोंकोनगरपरिषदप्रधानसेसहमतिलेनेकेआदेशजारीकरदिएगएहैं।

-हेमराजपखरू,मुख्यशिक्षाअधिकारी,कठुआ।

By Doyle