संवादसहयोगी,गढ़मुक्तेश्वर:

तीर्थनगरीमें17जुलाईसेहर-हरमहादेवऔरबम-बमभोलेकीगूंजकेबीचलाखोंकांवड़ियोंकाआगमनहोनेलगेगा।उनकेस्वागतकेलिएगंगानगरीसज-धजकरतैयारहोगईहैं।

सावनकामहीनादोदिनबादसेशुरूहोगा,लेकिनकांवड़ियोंकाआनाअभीसेशुरूहोगयाहै।सनातनधर्मकीमान्यताकेअनुसार,सावनकेमहीनेमेंभगवानशिवकोप्रसन्नकरनेकेलिएश्रद्धालुकांवड़मेंगंगाकाजललेकरविभिन्नस्थानोंपरस्थितभगवानशंकरकेमंदिरोंमेंजलाभिषेककरतेहैं।सावनमाहकेआगमनसेपहलेहीगंगापारसेआनेवालेकांवड़ियोंकातांतालगगयाहै।गंगापारकेकांवड़ियेश्रावणमाहमेंहरसोमवारकोगंगाजलसेभगवानआशुतोषकाजलाभिषेककरतेहैं।गंगाकिनारेकांवड़ियोंद्वाराकीजानेवालीपूजाकेलिएपुजारियोंकीगद्दियांअभीसेसजनीशुरूहोगईहैं।धार्मिकमान्यताओंकेअनुसार,प्रदेशसहितअन्यराज्योंकेविभिन्नइलाकोंसेआनेवालेकांवड़ियेपहलेगंगाकिनारेपूजाकरतेहैं।इसकेबादहीवेअपनेकलशमेंगंगाजललेकरभगवानशिवकेमंदिरतकजानेकेलिएपदयात्राशुरूकरतेहैं।स्थानीयप्रशासनिकसूत्रोंकेअनुसारकांवड़लेनेआनेवालोंकेलिएप्रशासननेसुरक्षाव्यवस्थाचाकचौबंदकरदीहै।इसवर्षपूरेमहीनेमेंलगभगदसलाखकांवड़ियोंकेआनेकीसंभावनाहै।कांवड़यात्राकेअवसरपरपूरेमहीनेकेलिएगंगानगरीमेंबड़ेस्तरपरसावनमेलेकाआयोजनकियाजाताहै।मेलेकोदेखतेहुएपूरेक्षेत्रमेंसैकड़ोंअस्थायीदुकानेंभीबनाईगईहैं।दुकानदारप्रदीपशर्मानेबतायाकिहजारोंकांवड़ियेगंगाजललेकरप्रसिद्धपुरामहादेव,दूधेश्वरनाथ,छपकौली,नक्काकुंआ,सबलीमंदिरमेंजलाभिषेककरनेजातेहैं।उनयात्रियोंकेलिएमार्गमेंजगह-जगहविश्रामकरनेकेदौरानभोजनऔरअन्यजरूरतोंकेलिएभंडारेऔरशिविरलगाएजातेहैं।उन्होंनेकहाकिकुछस्थानोंपरतोनि:शुल्कभोजनकीभीव्यवस्थाकीजारहीहैजबकिकुछस्थानोंपरउनसेमामूलीशुल्कलियाजाएगा।देवेंद्रकुमारनेबतायाकिशिवभक्तोंकेलिएशिवचित्रवालेकपड़े,घंटियां,प्लास्टिककेनागतथाशिवकीमूर्तियोंकेअतिरिक्ततरह-तरहकीचमकीलीझंडियोंकीअभीसेहीबिक्रीशुरूहोगईहै।गंगानगरीमेंहरियाणा,पंजाब,दिल्ली,राजस्थानऔरपश्चिमीउत्तरप्रदेशकेविभिन्नइलाकोंसेलाखोंकांवड़ियोंकेआनेकीसंभावनाहै।गंगानगरीमेंचारोंतरफभगवाधारीकांवड़ियोंकेस्वागतकेलिएबड़े-बड़ेपोस्टरतथादिशानिर्देशलिखेहुएहैं।उपजिलाधिकारीराममूर्तित्रिपाठीनेबतायाकिकांवड़मेलेकेलिएअधिकांशतैयारीपूरीकरलीगईहै।सफाईव्यवस्थाभीचाक-चौबंदकरदीगईहै।