संवादसूत्र,कुमारडुंगी:14वेंवित्तआयोगकीसरकारीराशिसेलाखोंकीलागतमेंबनीजलमीनारसफेदहाथीसाबितहोरहीहै।लोगचुआंवसिचाईकुआंकेदूषितपानीपरआश्रितहोगएहैं।पंचायतमुखियाकीओरसेउपयोगकीगई14वेंवित्तआयोगकेराशिकीहकीकतलोगोंकेसामनेआरहीहै।मामलाकुमारडुंगीप्रखंडक्षेत्रकाहै।यहांकेअधिकतरजलमीनारलोगोंकीप्यासबुझानेकेबजायगांवकीशोभाबढ़ानेकाकामकररहेहै।चारसेपांचमाहचलनेकेबादअपनेआपदमतोड़देरहेहै।बनानेवालेसंवेदक,पंचायतप्रतिनिधिवविभागकेलोगजनताकीइसपरेशानीसेमुंहमोड़दियेहैं।लिहाजासालोंसेखराबपड़ेसोलरजलमीनारमेंजंकलगनेलगाहै।जलमीनारखराबहोनेकेकारणगांवकेलोगसिचाईकुआं-चुआंकेदूषितपानीकोअमृतमानकरमजबूरीमेंपीरहेहैं।यहपरेशानीलोगोंमेंवर्षोंसेहोरहीहै।शिकायतकेबादभीबनानेवालेसंवेदक,पंचायतप्रतिनिधिवविभागकोलोगोंकीपरेशानीसेकोईलेनादेनानहींहैं।बतादेकिकुमारडुंगीप्रखंडमेंतीनप्रकारकेजलमीनारबनाएगएहैं।इनमेंडीएमएफटीफंडसेछहलाखकीलागतसेसोलरजलमीनारलगायागयाहै।दोप्रकारकेजलमीनारपंचायतकेविकासकार्यकेलिएआए14वेंवित्तआयोगनिधिसेबनाएगएहैं।इसमेंएकजलमीनारलगभग3लाख82हजारवदूसराजलमीनार2लाख49हजारकीलागतसेबनाएगएहैं।सभीजलमीनारपांचवर्षतककेलिएबनाएगएहैं।जलमीनारनौपंचायतकेहरएकगांवमेंदो-तीनलगाएगएहै।इनमेंसेवर्तमानज्यादातरजलमीनारसफेदहाथीसाबितहोरहेहैं।हरगांवमेंएकदोकरसोलरजलमीनारखराबपड़ेहैं।कुछजलमीनारलगनेकेचारपांचमाहमेंहीखराबहोगए।तबसेजलमीनारगांवकीशोभाबढ़ारहेहै।कुछजलमीनारमेंजंकलगनाशुरूहोगयाहै।ग्रामपंचायतबाईहातुटोलापंचभोयामें14वेंवित्तआयोगकीराशिसेलगभग18सोलरजलमीनारलगायागयाहै।इसमेंज्यादातरजलमीनारखराबपड़ीहुईहै।इसकेचलतेग्रामीणकुएंकाप्रदूषितपानीकोअमृतमानकरपीनेकोविवशहैं।ग्रामपंचायतबाईहातुकेपंचाभोयाटोलामेंजलमीनारखराबपड़ाहै।स्थानीयग्रामीणोंनेबतायाकिकईबारपंचायतजनप्रतिनिधिकोमौखिकशिकायतकरजलमीनारकोसहीकरानेकीमांगकीजाचुकीहैमगरकोईध्याननहींदेरहेहैं।उनकीलापरवाहीगैरजिम्मेदारानारवैयेकेचलतेगांवकेसैकड़ोंपरिवारकेलोगकुएंकाप्रदूषितपानीपीरहेहैं।इसीतरहसेउसीपंचायतकेकुदाहातुगांवमेंभीजलमीनारखराबपड़ाहुआहै।लखिमपोसीमेंदोजलमीनार,जोजोहातुमेंएकजलमीनारखराबपड़ाहै।यहीस्थितिप्रखंडकेसभीगांवमेंलगेएक,दोजलमीनारखराबपड़ाहै।

प्रखंडकेज्यादातरजलमीनारखराबहै।इसकीमरम्मतिकेलिएसंवेदकसेबातकीजाएगी।जिसहिसाबसेस्टीमेटबनायागयाथा,मुखियाकोबोलागयाहै।जल्दसेजल्दजलमीनारकामरम्मतिकरवायाजाएगा,ताकिलोगोंकोशुद्धपेयजलमिले।

-सुजाताकुजूर,प्रखंडविकासपदाधिकारी,कुमारडुंगी।

By Edwards