चेन्नैजम्मू-कश्मीरकेमुख्यमंत्रीमुफ्तीमुहम्मदसईदकेनिधनकेबादउनकीबेटीमहबूबासईदकेसत्तासंभालनेकीचर्चाजोरोंपरहै,लेकिनसईदकीदूसरीबेटीरुबियासईद,जोकभीचर्चितरहीथीं,चेतपेटमेंतारापुरअवेन्यूरोडपरस्थितअपार्टमेंटमेंएकगुमनामजिंदगीजीरहीहैं।1989मेंरुबियाकाजम्मू-कश्मीरमेंउग्रवादियोंनेअपहरणकरलियाथाऔरभारतसरकारकोउनकीरिहाईकेबदलेपांचआतंकवादियोंकोछोड़नापड़ाथा।रुबियाकेअपहरणकीखबरनेअंतरराष्ट्रीयसुर्खियोंमेंभीजगहबनाईथी।रुबियाकोतमिलनाडुपुलिसकीस्पेशलआर्म्डफोर्सकेपांचजवानोंकीकड़ीसुरक्षामिलीहुईहै।चेतपेटकेगार्ड,ऑटोड्राइवरऔरयहांरहनेवालेहरएकव्यक्तिकोरुबियाकेघरकापतामालूमहै।रुबियाकेपड़ोसीउससेरोज़बातकरतेहैं,हालांकिसुरक्षाकारणोंकीवजहसेउनकेपड़ोसीउनकेबारेमेंज्यादाकुछनहींबतातेहैं।पड़ोसियोंकेमुताबिक,रुबियाकेपरिवारकारवैयादोस्तानाहै।रुबियाकीसुरक्षामेंतैनातएकसुरक्षागार्डकेमुताबिक,'दूधवाले,धोबीऔररोजानाआने-जानेवालेलोगोंकोभीएकसीमाकेबादप्रवेशनहींकरनेदियाजाताहै।'सिक्यॉरिटीगार्डकेमुताबिक,जम्मू-कश्मीरकेसीएममुफ्तीमुहम्मदइसघरमेंकभीनहींआए।वहगार्डसुरक्षाकारणोंसेरुबियाकेबारेमेंकुछभीबतानेसेइनकारकरतेहैं।हालांकिउन्होंनेयहबतायाकिरुबियाकेदोलड़केहैंऔरवहपिछले10सालसेयहांरहरहीहैं।जबसेरुबियाकेपितादिल्लीएम्समेंभर्तीहुए,तबसेवहअपनेपिताकेपासहीथीं।

By Doyle