संजयभागड़ा,रामपुरबुशहर

कोरोनासंकटकेचलतेबंदस्कूलोंमेंअबप्रदेशसरकारकेनिर्देशानुसार12अक्टूबरसेशिक्षकोंकीउपस्थितिकोसौफीसदकियागयाहै।ऐसेमेंस्कूलोंमेंशिक्षकतोपहुंचरहेहैं,लेकिनछात्रआनेसेगुरेजहीकररहेहैं।पदमवरिष्ठमाध्यमिकपाठशालारामपुरमेंसोमवारसेशत-प्रतिशतशिक्षकोंनेस्कूलआनाशुरूकरदियाहै।लेकिनस्कूलमेंस्वेच्छायास्वजनोंकीअनुमतिसेअभीतकएकभीछात्रबीतेतीनदिनमेंनहींपहुंचाहै।रोजानाशिक्षाविभागद्वाराघर-घरपाठशालाकार्यक्रमकेतहतपहलीसे12वींकक्षातककेबच्चोंकोस्कूलोंमेंभेजेजारहेपाठ्यक्रमकोशिक्षकवाट्सएपकेमाध्यमसेछात्रोंकोभेजभीरहेहैंऔरछात्रोंद्वाराकिएजारहेहोमवर्ककीजांचकीजारहीहै।स्कूलमेंछठीसे12वींतक689बच्चेपढ़तेहैं।इसकेअलावा55शिक्षकव17अन्यकर्मचारीहैं।पदमवरिष्ठमाध्यमिकपाठशालाकेप्रधानाचार्यप्रवीणगुप्तानेदैनिकजागरणसेहुईविशेषबातचीतमेंबतायाकिसोमवारसेस्कूलमेंशत-प्रतिशतशिक्षकोंनेआनाशुरूकरदियाहै।रोजानाशिक्षाविभागद्वारास्कूलमेंभेजेजारहेपाठ्यक्रमकोसभीशिक्षकोंकोपहलेविषयवारभेजाजारहाहै,उसकेबादशिक्षकयहपाठ्यक्रमछात्रोंकोविस्तारसेभेजरहेहैं।जबकिबहुतसेछात्रफोनऔरवाट्सएपद्वाराशिक्षकोंकेसाथसंपर्कमेंभीहैं।लेकिनकुछछात्रअभीभीऐसेहैंजोपढ़ाईकोगंभीरतासेनहींलेरहेहैं।उन्होंनेबतायाकिस्कूलमेंज्यादातरबच्चेग्रामीणक्षेत्रोंसेसंबंधितहैं।कुछछात्रोंकेपासएंड्रायडफोनभीनहींहैंतोकुछछात्रोंकोअपनेस्वजनोंकेशामकोघरपरपहुंचनेकेबादशिक्षकोंद्वारादिएजारहेहोमवर्ककोकरनापड़ताहै।गुप्तानेबतायाकिस्कालरशिप,पंजीकरणसंबंधीकामकाजकेलिएवैसेतोकईछात्ररोजानास्कूलमेंपहुंचरहेहैं,लेकिनवेशिक्षकोंसेअपनीपढ़ाईसंबंधीकार्योकेलिएकोईपूछताछनहींकररहेहैं।शिक्षाविभागकेनिर्देशकापालनकररहेस्कूल

प्रधानाचार्यप्रवीणगुप्तानेबतायाकिस्कूलमेंहरशनिवारकोशिक्षकप्रश्नोत्तरीप्रतियोगिताकाभीआयोजनकररहेहैं।इसपरिस्थितिमेंशिक्षकोंकोछात्रोंकेसाथतालमेलबिठानाकिसीचुनौतीसेकमनहींहै।हालांकिशिक्षाविभागद्वारास्कूलोंकोबेहतरतरीकेसेचलानेकेलिएकुछदिशानिर्देशजारीभीकिएगएहैंऔरस्कूलमेंइनकापालनकियाजारहाहै।

सुरक्षितमाहौलदेनेकेलिएस्कूलवचनबद्ध

रोजानास्कूलपरिसरकीहरजगहकोसैनिटाइजकियाजारहाहै।स्कूलप्रबंधनकाप्रयासहैकिस्कूलमेंयदिछात्रस्वेच्छायास्वजनोंकीअनुमतिसेपहुंचताहैतोउसेसुरक्षितमाहौलदेनेकेलिएवचनबद्धहै।स्कूलकेशिक्षकोंद्वाराछात्रोंकीपढ़ाईमेंआरहीहरप्रकारकीबाधाकोदूरकरनेकापूराप्रयासकियाजारहाहै।कक्षा,विद्यार्थी

By Douglas