जागरणसंवाददाता,फतेहपुर:बहुआब्लाककेकस्बेमेंपं.दीनदयालउपाध्यायराजकीयमाडलस्कूलकीदशाखराबहोचलीहै।संचालनकेचारसालमेंजर्जरहुएभवनमेंबैठनेसेडरलगनेलगाहै।दीवारोंमेंआईदरार,उखड़ीहुईफर्शऔरटूटरहेखिड़कीतथादरवाजेपरेशानीकासबबबनेहुएहैं।इमारतकीसूरतबिगड़नेकेपीछेगुणवत्ताविहीनकामबतायाजारहाहै।कालेजप्रशासननेनवीनइमारतकीबदहालीकीदशाकीरिपोर्टअफसरोंसेकीहै।

बहुआकस्बेमेंशासनकेतोहफेकेरूपमेंमिलेराजकीयमाडलस्कूलकीदशाखराबहोचलीहै।गुणवत्ताविहीनकामकरनेवालीकार्यदायीसंस्थापरअफसरोंकीकलमकीआंचनहींआपारहीहै।गुणवत्ताविहीनकामकेचलतेचारसालमेंइमारतबुरेदौरसेगुजररहीहै।कक्षाछहसे12तकमें640विद्यार्थीपंजीकृतहैं।शिक्षाव्यवस्थाकोसंचालनकरनेकेलिएआठसरकारीएवंचारप्राइवेटशिक्षकहैं।प्रधानाचार्यकेपदपरअविनाशआनंदतीनमहीनेपूर्वकुर्सीसंभालचुकेहैं।प्रधानाचार्यनेकुर्सीसंभालनेकेबादजर्जरइमारतकीलिखापढ़ीतेजकरदीहै।विद्यालयकोसंवारनेकीमंशाअभिभावकोंकोभारहीहै।इसकेअलावास्कूलकीअन्यसमस्याओंमेंस्कूलकारास्ता,बाउंड्रीवालनहीं,पूरेभवनमेंलगीखिड़कियोंमेंपल्लेनहीं,पूरेविद्यालयकीफर्शटूटी,कमरोंसेबरसातमेंपानीगिरताआदिहैं।

डीआइओएसमहेंद्रप्रतापसिंहनेकहाकिविद्यालयदशाजांचीजाएगी।गुणवत्ताविहीनकामकरनेवालीसंस्थाकोतलबकियाजाएगा।विद्यालयमेंजोदिक्कतेंहैंउनकोदूरकरनेकेप्रयासहोंगे।

व्यवस्थाकीतस्वीर

योजना:राजकीयमाडलस्कूल

स्वीकृतवर्ष:2010-11

निर्माणकोहरीझंडी:सितंबर2013

लागत:तीनकरोड़2लाखरुपये

निर्माणपूराहुआ:2016

छहस्कूलोंकावर्ष2010-11मेंमिलाथातोहफा

शासननेएकसाथजिलेकोवर्ष2010-11मेंराजकीयमाडलस्कूलकातोहफाब्लाकस्तरपरदियाथा।इसमेंहसवाकेदनियालपुर,तेलियानीकेअलादातपुर,ऐरायांकेएलई,भिटौराकेलतीफपुर,बहुआब्लाककेकस्बेमेंतथाहथगामकेअमिलिहापालगांवमेंइमारतेंबनीहै।इसमेंअमिलिहापालकाराजकीयस्कूलसबसेबादमेंवर्ष2018मेंबनकरतैयारहोपायाहै।