जेएनएन,बुलंदशहर:जलहीकलहैऔरजलहीजीवनहै।इसतरहतमामस्लोगनहमदीवारोंपरलिखादेखतेहैंलेकिनइन्हेंजीवनकाआधारबनालेनाहरकिसीकेबसकीबातनहींहैं।संध्याकीललकऔरअलखनेजलसरंक्षणकोजीवनकाआधारबनालियाहै।जलकोबचानेकेसाथहीलोगोंकोजलसंरक्षणकेलिएजागरूककरनेमेंजुटीहुईहैं।

अनूपशहरक्षेत्रकेगांवबच्चीखेड़ानिवासीछात्रासंध्याकोगिरतेजलस्तरनेइतनाचितितकरदियाकिबड़ोंकीजगहउसनेजलसंरक्षणकीमुहिमकोअपनेजीवनकाहिस्साबनालियाहै।संध्यानेअपनेगांवसेमहिलाओंकोजलसंरक्षणकरनेकेलिएजागरूककरनेकाकामदोसालपहलेशुरूकियाथा।संध्याकेजलसंरक्षणकेप्रतिगंभीरताकोदेखतेहुएउसकेपरिजनभीउसकीमुहिमसेजुड़करलोगोंकोजलसंरक्षणकेलिएजागरूककररहेहैं।अबगांव-गांवमेंलोगोंनेघरोंमेंसबमर्सिबललगवालिएहैं।जिन्हेचलानेकेबादलोगभूलजातेहैंऔरउनकापानीनालियोंऔरसड़कोंबर्बादहोतारहताहै।संध्यानेसबमर्सिबलसेबेवजहसड़कोंपरबहतेपानीकीबर्बादीरोकनेकेलिएसबमर्सिबलकादुरुपयोगनहींकरनेकीमुहिमचलारखीहैं।जिसकेमाध्यमसेवहलोगोंकेजलकेमहत्वऔरउसकेसंचयकेबारेमेंजागरूककररहीहैं।संध्यानेजीवनधाराफाउंडेशनसेजुड़करजलसंरक्षणऔरनिर्मलगंगाअभियानकोगतिप्रदानकीहै।जलसंरक्षणकेसाथहीसाथवहगंगाकोस्वच्छबनानेकेलिएकामकररहींहैं।

जलकेअंधाधुंधदोहनऔरवाटररिचार्जिंगनहींहोनेसेजलस्तरलगातारगिररहाहै।हमअपनेआस-पासरिसतेपानीकोरोकजलसंरक्षणमेंअपनीभागीदारीकरसकतेहैं।महिलाघरेलूकाममेंपानीकासदुपयोगकरजलसरंक्षणमेंमहत्वपूर्णभूमिकानिभासकतीहैं।

-संध्याजिलाअध्यक्षजीवनधाराफाउंडेशन

By Edwards