लखीमपुर:शहरसेसटागांवउदयपुरमहेवा।मेहनतहीइसगांवकीपहचानबनगईहै।करीब40फीसदीतबकायहांव्यापारसेजुड़ाहुआहैऔरकरीब50फीसदीआबादीमेहनत-मजदूरीकररहीहै।युवापीढ़ीनेमेहनतकेदमपरहीशहरकानाताइसगांवसेजोड़दियाहै।यहीवजहहैकिशहरकेलोगअपनेतमामकार्योंकेलिएउदयपुरमहेवागांवकारुखकरतेहैं।इनपरनाजहै

गांवकेपृथ्वीपाल,जिन्होंने1980मेंइंजीनिय¨रगकीपढ़ाईपूरीकीऔरमुंबईमेंअपनीनौकरीपूरीकी।करीब50फीसदीमेहनतकरनेवालेलोगोंकेइसगांवमेंपृथ्वीपालनेइंजीनिय¨रगकरगांवकानामरोशनकिया।अबपृथ्वीपालसेवानिवृत्तहोकरअपनेगांवमेंहीरहकरलोगोंकीसमस्याएंनिपटातेहें।फोटो06एलएके029

उदयपुरकेहीपूर्वप्रधानचंद्रिकाप्रसादने1993मेंराजपैलेससिनेमाहॉलकीस्थापनाकी।राजपैलेसकीस्थापनाकेकारणशहरीआबादीउदयपुरमहेवासेजड़ी।चंद्रिकाप्रसादजबप्रधानहुआकरतेथेतोलोगआपसीविवादनिपटानेकेलिएपुलिसकेपासनजाकरउनकेपासहीपहुंचतेथे।फोटो06एलएके027

उदयपुरकेचंद्रभालवर्मा,जिन्होंने1955मेंनायबकेपदपरनियुक्तिपाकरपूरेगांवकानामरोशनकिया।नौकरीकरतेसमयचंद्रभालनेलोगोंमेंशिक्षाकेप्रतिअलखजगाईऔरदूसरोंकोप्रेरितकरनेकाकामकिया।सेवानिवृत्तहोनेकेबादवहगांवमेंरहकरहीलोगोंसकारात्मकताकोबढ़ावादेरहेहैं।फोटो06एलएके026

गांवकेसंकटाप्रसादने1960मेंसंकटहरनतेलईजादकिया।इसतेलनेखूबप्रसिद्धिबटोरी।सिरदर्दमेंलाभदायकइसतेलकाव्यापारलखनऊ,सीतापुर,लखीमपुर,पीलीभीत,शाहजहांपुर,बरेलीआदिजिलेतकफैला।उनकेपुत्रराजालालनेहड्डीदर्दमेंफायदेमंददर्दमहाशक्तितेलबनाकरगांवकानामरोशनकियाहै।फोटो06एलएके025

उदयपुरमहेवाकेरहनेवालेदंतचिकित्सकडॉ.दीपकनेपढ़ाईपूरीकरनेकेबादसरकारीनौकरीकेबजाएअपनीनिजीक्लीनिकखोली।शहरकेगांधीविद्यालयचौराहेपरदीपकसुबहसेलेकरशामतकमरीजोंकाइलाजकरतेहैं।गांवमेंदूसराकोईदंतचिकित्सकनहींहै।दीपककीपहचानपूरेगांवकेसाथजुड़ीहै।-यहहैखूबी:शहरसेसटाहोनेकीवजहसेयहांकी40फीसदीआबादीव्यापारसेजुड़ीहै।शहरकेबड़े-बड़ेनामचीनप्रतिष्ठानउदयपुरमहेवाकीपहचानबनेहुएहैंलेकिन,सबसेबड़ागौरवयहांबनायागयासंकटहरनतेलहैजोयूपीभरमेंबिकताहैऔरराजपैलेसकीस्थापनाहै।इनदोवजहोंसेगांवकोकाफीप्रसिद्धिमिलीहै।

-आधारभूतढांचा:करीबपांचहजारकीआबादीवालेइसगांवमें2800मतदाताहैं।दोमजरेहैं,इनमेंगणेनगरवउदयपुरशामिलहै।गांवमेंएकडाकघरवप्राथमिकविद्यालयहै,जबकिप्राथमिकअस्पताल,पुलिसचौकीकरीबतीनकिलोमीटरदूरशहरीक्षेत्रमेंहै।ग्रामीणपाइपपेयजलयोजनाकीयहांशुरुआतनहींहुईहै।पेयजलसप्लाईकेलिए30हैंडपंपऔरपांचतालाबहैं।जबकिपांचसेछहकुआंथे,जोअबबंदहोचुकेहैं।

-पेयजलऔरसड़कहैप्रमुखसमस्या:

गांवमेंआजभीखड़ंजालगाहै।ऊबड़-खाबड़सड़केंलोगोंकीबड़ीसमस्याहैं।इसकेअलावाआर्सेनिकयुक्तपेयजलसप्लाईकीवजहसेलोगोंकोबीमारियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।

वर्तमानप्रधानअर्तिकावर्माकहतीहैंकिगांवमेंआंगनबाड़ीकेंद्र,गरीबोंकोप्रधानमंत्रीआवासदिलाना,सड़केंबनवाना,पार्कवपंचायतघरकीस्थापनाउनकीप्राथमिकताहै।फोटो05एलएके024

पूर्वप्रधानसुनीलदत्तकहतेहैंकिवह10सालप्रधानरहे।काफीविकासकार्यउन्होंनेकरायाहैलेकिनगांवमेंसड़केंबनवानेकाकामप्रधानकोप्राथमिकताकेआधारपरकरानाचाहिए।

By Dyer