मथुरानिवासीबीफार्माकीछात्रानिधिअग्रवालनेबतायाकिआगेरिसर्चकेक्षेत्रमेंकार्यकरनाचाहतीहैं।हालहीमेंउनकाबीफार्माकरजीएलएमेंकैंपसप्लेसमेंटकेदौरानअपोलोहॉस्पीटलएंटरप्राइजेजमेंचयनहुआहै,लेकिनरिसर्चकेक्षेत्रमेंआगेबढ़नेकेलिएनौकरीस्वीकारनहींकी।अबवहजीएलएविविसेहीएमफार्माकररहीहैं।पिताराजेंद्रअग्रवालकन्फेक्शनरीकीदुकानकरतेहैं।जीएलएयूनिवर्सिटीमेंमेराअध्ययनकाअच्छाअनुभवरहा।गोल्डपाकरगर्वअनुभवकररहीहूं।

आगरानिवासीबीकॉम(ऑनर्स)कीछात्रातान्याशिवहरेनेबतायाकिजीएलएविश्वविद्यालयसेउनकाप्लेसमेंटजारोइंस्टीट्यूटमेंहोगयाथा,लेकिनबैंकपीओकीतैयारीकेचलतेमैंनेज्वाइननहींकिया।आजमुझेगोल्डमेडलपाकरबहुतखुशीहोरहीहै।मानो¨जदगीकीपहलीसीढ़ीपारकरलीहो।वहएकअच्छेपदपरसरकारीजॉबपाकरअपनेमाता-पिताकासपनासाकारकरेंगी।उनकेपिताशैलेंद्रअग्रवालआगरामेंव्यापारीहैंऔरमांरागिनीशिवहरेनगरनिगममेंकार्यरतहैं।

गोल्डमेडलपानेवालेटूंडलानिवासीबीटेकइलेक्ट्रिकलइंजीनिय¨रगकेछात्रअनुजजैननेबतायाकिउन्हेंविश्वविद्यालयमेंइतनासहयोगमिलाकिवहअपनीमंजिलपानेमेंकामयाबरहे।जीएलएविश्वविद्यालयसेपढ़ाईकेदौरानहीकिर्लोस्करब्रादर्सलि.कंपनीमेंचयनहोगया।पितासुनीलकुमारजैनबिजनेसमैनहैं।

गोरखपुरनिवासीबीबीएकीछात्राऋषि¨सहपुणेइंस्टीट्यूटसेवर्तमानमेंपीजीडीएमकररहीहैं।बिजनेसमैनपितादेवेंद्र¨सहकाबिजनेसमैनबननेकासपनापूराकरनेकेलिएजॉबनहींकिया।जीएलएविविसेपढ़ाईकेदौरानकॉंसेंट्रिक्सकंपनीमेंचयनहोगयाथा।उन्होंनेबतायाकिआजमुझेबेहदखुशीहैकिमुझेएयरोस्पेसकेसंस्थापककेहाथोंसेसोनामिलाहै।----------------

मथुरानिवासीबीसीएकेछात्रप्रांकुशगोयलनेबतायाकिआजमुझेजीएलएविश्वविद्यालयसेगोल्डमेडलपाकरबेहदखुशीहोरहीहै।जीएलएविविसेमुझेवहमिला,जिसकीमुझेकभीआशाहीनहींथी।एकनहीं,बल्किदोकंपनीरोबोटेकऔरटीसीएसमेंप्लेसमेंटमिला।वर्तमानमेंटीसीएसकंपनीमेंसेवाएंप्रदानकररहाहूं।पिताउमेशचंद्रगोयलएकशॉपकीपरहैं।

फीरोजाबादनिवासीबीटेकसिविलइंजीनिय¨रगकीछात्राशाजियानेबतायाकिवहवर्तमानमेंएनआइटीजालंधरसेस्ट्रक्चलइंजीनिय¨रगसेएमटेककररहीहैं।आइइएसऑफिसरबननेकासपनालेकरआगेबढ़रहीशाजियाकहतीहैंकिजीएलएकेसभीशिक्षकोंनेमेरामार्गदर्शनकिया।पितामो.असलमखानइंश्योरेंसकंपनीमेंएडवाइजरहैं।मुझेगोल्डमेडलप्राप्तकरनेकाजोअवसरमिलरहाहै,वहमेरेमाता-पिताकीदुआओंसेहै।जिन्होंनेहमेशामार्गदर्शनकियाऔरआगेबढ़नेकाहौसलादिया।

मथुरानिवासीबीटेककंप्यूटरसाइंसकीछात्राकनिकाअग्रवालगोल्डमेडलपाकरबेहदखुशदिखीं।उन्होंनेबतायाकिआजयहगोल्डमुझेमेरेमाता-पिताऔरविविकेशिक्षकगणोंकेआशीर्वादसेमिला।उन्होंनेबतायाकिजीएलएविविसेमुझेमंजिलमिली।जहांसेमेरातीनकंपनीइंफोसिस,टेकम¨हद्रातथाटोरीहरिशकंपनीमेंचयनहुआ।इसकेबादटोरीहरिशकंपनीज्वाइनकरली।उनकेपिताउमेशअग्रवालबिजनेसमैनहैं।

अमरोहानिवासीबीएससीऑनर्सबायोटककीछात्राप्राशीवर्मानेबतायाकिवहअपनेआपकोभाग्यशालीमानतीहैंकिउन्हेंजीएलएविविसेशिक्षाप्राप्तकरगोल्डप्राप्तहुआ।शिक्षकगणोंनेउचितशिक्षाप्राप्तकरनेमेंसहयोगकियाऔरअपनेलक्ष्यकीओरबढ़तेहुएएमएससीफूडटेकदेहरादूनसेकररहीहैं।

मेरठनिवासीबीटेकमैकेनिकलकेछात्रश्रीकांतशर्मानेबतायाकिउत्कृष्टशिक्षाकेबलपरजीएलएविविसेटेकम¨हद्राऔरपदमिनीकंपनीमेंनौकरीमिलीऔरअबगोल्डमेडलप्राप्तकरनेआएहैं।जोउनकेलिएसुखदभविष्यकीओरइशाराकरताहै।आगेकीऔरपढ़ाईकेलिएतैयारीकररहेहैंऔरनौकरीभी।उनकेपितारविकांतशर्माप्राइवेटशिक्षकहैं।

कन्नौजनिवासीएमबीएकीछात्राआयूषीराकेशजैननेअपनीसंपूर्णश्रेष्ठताकाश्रेयजीएलएविविकोदिया।छात्रावर्तमानमेंफेयरलैब्समेंकार्यरतहैं।उन्होंनेबतायाकिउनकाचयनविविसेहीकैंपसप्लेसमेंटकेदौरानहुआ।वहवर्तमानमेंअपनीजॉबकेसाथआगेकीपढ़ाईकीतैयारीकररहीहैं।

एटानिवासीबीटेकइलेक्ट्रॉनिक्सएंडकंयूनिकेशनकेछात्रदीपककुमारमध्यमवर्गीयपरिवारसेहैं।सर्वप्रथमजीएलएसेछात्रकाचयनइंफोसिसमेंहुआ।गेटपरीक्षापासकरविविसेहीवीवीडीएनकंपनीमेंचयनहोगया।वर्तमानमेंवहवीवीडीएनमेंएंबेडेडसॉफ्टवेयरइंजीनियरकेपदपरसेवाएंप्रदानकररहेहैं।आइइएसअधिकारीबननेकीचाहरखनेवालेछात्रदीपकनौकरीकेसाथकड़ीमेहनतकररहेहैं।वहइसमुकामकोभीजल्दहासिलकरेंगे।उन्होंनेबतायाकिउनकेपिताप्रमोदकुमारगुप्ताबिजनेसमैनहैं।वर्तमानमेंगोल्डमेडलसेअतिरिक्तमिलीकामयाबीकाश्रेयछात्रनेजीएलएकोदिया।

मथुरानिवासीएमसीएकीछात्राअनीशासप्रानेबतायाकिजहांउन्हेंआजगोल्डमेडलप्राप्तहुआ,वहजीएलएविविउनकेलिएड्रीमजैसाहै।जीएलएकेशिक्षकोंसेबहुतकुछसीखनेकोमिला।विविकीउत्कृष्टशिक्षाकेकारणकैंपसप्लेसमेंटकेदौरानइंफोसिसकंपनीमेंनौकरीमिली।छात्राकेपिताराजकुमारसप्राकाकिताबोंकाबिजनेसहै।

सिल्वरपाकरचांदीसादमकाचेहरा

गायत्रीतपोभूमिनिवासीबीएससीऑनर्सबायोटेककीछात्राप्रियांशीखंडेलवालनेबतायाकिजीएलएसेपढ़ाईकेदौरानहीउनकाचयननेस्लेइंडियाकंपनीमेंहोगयाथा।अबवहमथुराकेएककॉलेजसेबायोटेकसेएमएससीकररहीहैं।वास्तवमेंजीएलएसेबहुतकुछसीखनेकोमिला।पिताहरिशंकरखंडेलवालबिजनेसमैनहैं।

राधिकाविहारनिवासीबीकॉमऑनर्सकीछात्राछवि¨सहनेबतायाकिसबसेबड़ीबातयहहैकिविविस्तरसेउन्हेंकॉसेंट्रिक्सकंपनीमेंजाबमिली।वर्तमानमेंछात्राजीएलएसेहीएमबीएकररहीहैं।पिताहरिपाल¨सहदिल्लीकीएककंपनीमेंडिप्टीजनरलमैनेजरकेपदपरकार्यरतहैं।

कानपुरनिवासीबीटेकसिविलइंजीनिय¨रगकेछात्रआकाशयादवकामाननाहैकिजीएलएविविमेंजोछात्रअध्ययनरतहैं,वेवास्तवमेंअपनाभविष्यसंवाररहेहैं।छात्रनेसिल्वरमेडलपानेकाश्रेयअपनेगुरुजनोंकोदिया।पितारामकुमारयादवएकबिजनेसमैनहैं।

संतकबीरनगरनिवासीबीटेकइलेक्ट्रिकलइंजीनिय¨रगकेछात्रहिमांशुकुमारनेगनेबतायाकिजीएलएविविअपनेछात्रोंकेसंपूर्णविकासकेलिएसभीप्रकारसेजरूरीसुविधाएंउपलब्धकराताहै।इन्हींविशेषताओंकेचलतेआजवहअमेरिकीबहुराष्ट्रीयकंपनीटौरीहैरिसबिजनेससॉल्यूशनबैंगलोरमेंएसोसिएटसॉफ्टवेयरकेपदपरकार्यरतहैं।पिताबैजनाथउत्तरप्रदेशसरकारमेंअपरसांख्यिकीयअधिकारीहैं।

कुशीनगरनिवासीबीटेकमैकेनिकलकेछात्रसुधांशुपांडेयनेबतायाकिउन्हेंजीएलएविविसेबहुतकुछसीखनेकोमिलाहै।पढ़ाईकेसाथकैंपसप्लेसमेंटमेंटेकम¨हद्राकंपनीमेंजॉबहासिलकी।वर्तमानमेंवहआगेकीपढ़ाईकीतैयारीकररहेहैं।पिताजितेंद्रकुमारपांडेयहेल्थविभागमेंनॉनमेडिकलअसिस्टेंटकेपदपरकार्यरतहैं।

मुरसाननिवासीबीटेकइलेक्ट्रिकलएंडकम्यूनिकेशनकीछात्रागुंजनअग्रवालनेबतायाकिजीएलएविविशिक्षाकेलिएउत्तमजगहहै।उत्कृष्टशिक्षाकेकारणहीफिजर्वकंपनीमेंचयनमिला।आगेकीपढ़ाईकेकारणकंपनीमेंचयननहींलिया।उन्होंनेबतायाकिविविसेसिल्वरमेडलमिलनासौभाग्यहै।पिताराजीवअग्रवालव्यवसायीहैं।

लखनऊनिवासीबीटेककंप्यूटरसाइंसकीछात्राशिवांगी¨सहनेबतायाकिशिक्षकोंकीवजहसेहीपढ़नेऔरआगेकुछअच्छाकरनेकीप्रेरणामिली।उत्कृष्टशिक्षाकेकारणउन्हेंविश्वविद्यालयसेटेकम¨हद्राकंपनीमेंकैंपसप्लेसमेंटमिला।पितारामनरेश¨सहव्यापारीहैं।

वृंदावननिवासीबीबीएकीछात्राभावनाअग्रवालनेअपनेसिल्वरमेडलपानेकाश्रेयविश्वविद्यालयकेगुरुजनोंऔरमाता-पिताकोदियाहै।उन्होंनेबतायाकिवहजीएलएसेवर्तमानमेंएमबीएकररहीहैं।पिताप्रदीपअग्रवालबिजनेसमैनहैं।

मथुरानिवासीएमबीएकेछात्रमुकुलरावतनेबतायाकिजीएलएसेकैंपसकेदौरानउनकाचयनप्रिमासोनिकस्पेक्ट्रमकंपनीमेंहुआ।पिताजुगेंद्र¨सहरावतकृषिविभागमेंभूमिसंरक्षणअधिकारीकेपदपरकार्यरतहैं।

बदायूंनिवासीबीसीएकीछात्रासोनाक्षीअग्रवालएकइंजीनिय¨रगकॉलेजसेएमसीएकररहीहैं।उन्होंनेसिल्वरमेडलप्राप्तकाश्रेयअपनेमाता-पिताऔरविश्वविद्यालयकेशिक्षकोंकोदिया।छात्रानेबतायाकिविविसेकैंपसप्लेसमेंटकेदौरानउनकाचयनकैपजेमिनीऔरकॉसेंट्रिक्सकंपनीहुआहै।पितासौरभगोयलसर्विसकरतेहैं।

कासगंजनिवासीएमसीएकीछात्राकु.शैलीशर्मानेबतायाकिजीएलएकेशिक्षकऔरमाता-पिताकेआशीर्वादसेजीएलएमेंकैंपसप्लेसमेंटकेदौरानटेकम¨हद्राकंपनीमेंचयनमिला।वर्तमानमेंवहसरकारीनौकरीकेलिएप्रयासरतहैं।पितापरमानंदशर्माबिजनेसमैनहैं।

गौतमबुद्धनगरनिवासीबी.फार्माकीछात्रायाशिकाअग्रवालसिल्वरमेडलप्राप्तकरबहुतखुशहैं।उन्होंनेखुशीजाहिरकरतेहुएबतायाकिविश्वासहीनहींथाकिविविसेऐसीउत्कृष्टशिक्षाप्राप्तकरवहसिल्वरमेडलहासिलकरेंगी।उनकाचयनपॉलीमेडिकेयरमेंहुआ।पिताअशोककुमारअग्रवालसर्विसकरतेहैं।