सीतापुर:कलतकजिसनदीमेंनालेकेबराबरभीपानीनहींथा,आजउसनदीमेंलहरेंहिलोरेंमाररहींहै।नदीकापानीतेजीसेबढ़ताजारहाहै,जोबिल्कुलतटपरआकरलगगयाहै।अभीतोशहरनेपहलीबारिशदेखीहै,उसपरनदीकाऐसारूपआनेवालेदिनोंकेलिएअच्छेसंकेतनहींदेरहाहै।नदीकेकिनारेनईबस्ती,आलमनगर,दुर्गापुरवा,मछलीमंडी,वालदाकालोनी,शेखसरांय,बट्सगंज,लोनियनपुरवा,तरीनपुर,हबीबपुर,आहाताकप्तान,बैजनाथकालोनी,रोटीगोदामआदिमुहल्लेबसेहैं।इनमुहल्लोंकागंदापानीनालेकेमाध्यमसेनदीमेंगिरताहै।लेकिनइनदिनोंहालातउल्टेहैं।नदीकापानीउल्टेनालोंमेंबढ़रहाहै।तटीयइलाकेकेअधिकांशमुहल्लोंसेनदीकापानीसटगयाहै।तटबंधकटकरनदीमेंसमारहाहै।कैंचीपुलकेनिकटदोपुलियोंकोनदीनेकाटदियाथा।इनमेंसेलोनियनपुरवाकीदिशावालीपुलियाकोकोदुरुस्तकरदियागयाहैजबकितरीनपुरकेपीछेवालीपुलियागायबहीहोगईहै।करीब30फीटकेदायरेसेनदीकापानीतरीनपुरमुहल्लेकीतरफबढ़रहाहै।वहींनदीकेदूसरीतरफभीपानीपौधोंकीनर्सरीमेंभरताजारहाहै।स्थितिसाफहैकिआनेवालेदिनोंमेंनदीरौद्ररूपलेसकतीहै।पुलकेनीचेभीअतिक्रमण

जहांसरायननदीरौद्ररूपलेरहीहै,वहींअतिक्रमणकरनेवालेकिसीभीहदतकजानेकोतैयारहैं।उजागरइंटरकॉलेजकेनिकटपक्कापुलकेनीचेकोठीमेंतोबाकायदावर्कशॉपखोलरखागयाहै।यहांपुलकेनीचेहीदुकानरखकरबेल्डिगकाकामचलरहाहै।बाल्मीकिमंदिरकीसीढि़योंपरपहुंचापानी

पक्कापुलकेनिकटबाल्मीकिमंदिरमौजूदहै।नदीकेजलकाआचमनकरनेकेलिएइसमंदिरसेनदीकेलिएसीढि़यांगईहैं।इनसीढि़योंपरअबनदीकापानीहिलोरेमाररहाहै।नदीमेंबरसातकापानीआरहाहै

नदीमेंकिसीनहरकापानीनहींछोड़ागयाहै।नदीकेकिनारेपड़नेवालेगांवोंमेंड्रेनकानिर्माणकरायागयाथा।उन्हींड्रेनोंसेबरसातकापानीनदीमेंपहुंचरहाहै।

वीकेसिंह,अधिशासीअभियंता

By Ellis