मधुबनी।सरिसबपाहीस्थित107वर्षपुरानेएलएकेडमीउच्चविद्यालयमेंशनिवारकोपूर्ववर्तीछात्र-छात्रामिलनसमारोहकाआयोजनकियाजारहाहै।पहलीबारआयोजितहोरहेइससमारोहमेंवर्षोंबादबचपनकेसहपाठीवमित्रमिलेंगे।वेदिवंगतहोचुकेअपनेसाथियोंवगुरुजनोंकोश्रद्धांजलिदेंगे।जिलेमेंपहलीबारकिसीसरकारीस्कूलमेंपूर्ववर्तीछात्रोंकामिलनसमारोहआयोजनहोरहाहै।दिवंगतगुरुजनोंवमित्रोंकोदेंगेश्रद्धांजलि।स्कूलमेंसमारोहकीतैयारियांपूरी।इसेलेकरशिक्षकोंवछात्रोंमेंदिखरहाहैउत्साह।कार्यक्रमकोलेकरस्कूलकेवर्तमानछात्र-छात्राओंवशिक्षकोंमेंप्रसन्नतावउत्साहकामाहौलहै।लगभगपूरेदिनचलनेवालेइसकार्यक्रमकोलेकरस्कूलपरिसरमेंभव्यतैयारीकीगईहै।आमलोगोंमेंभीकाफीउत्सुकताहै।पंचायतकेमुखियारामबहादुरचौधरीभीइसीविद्यालयकेछात्ररहेहैं।कार्यक्रमकेसमन्वयकमुखियारामबहादुरचौधरीनेबतायाकिहरदशककेछात्रोंकेलिएअलग-अलगशिविरबनाएगएहैं।इससेअपनीकक्षाकेछात्रोंकोतलाशनेमेंसुविधाहोगी।इनशिविरोंमेंपुरानेसहपाठीएकदूसरेसेपुरानीयादोंकोसाझाकरेंगे।बतादेंकिदरभंगाप्रमंडलकेपुरानेस्कूलोंमेंसेएकइसस्कूलकीस्थापना1914मेंहुईथी।दरभंगामहाराजलक्ष्मीश्वरसिंहकेनामपरइसस्कूलकीस्थापनामहारानीलक्ष्मीवतीनेकीथी।पिछलेसौवर्षोंमेंइसस्कूलनेइसपूरेइलाकेकोआधुनिकशिक्षादेनेकाकामकियाहै।इसस्कूलकेपूर्ववर्तीछात्रोंमेंराष्ट्रीयस्तरपरख्यातिपाचुकेकईनौकरशाह,इंजीनियर,डॉक्टर,वकील,न्यायाधीश,साहित्यकारआदिशामिलहैं।

By Doyle