हरेंद्रनागर,फरीदाबाद:बच्चोंकायौनशोषणरोकनेकेलिएजिलेकेलगभगसभीस्कूलोंमेंअपनेस्तरपरउपायकिएगएहैं।फर्ककेवलइतनाहैकिकिसीनेइसेगंभीरतासेलेतेहुएतमामउपायकिएहैं,वहींकुछस्कूलोंनेकेवलएककमेटीबनाकरइतिश्रीकरलीहै।बच्चोंकेसाथकिसीभीतरहकेदु‌र्व्यवहारकोरोकनेवसमयपरसामनेलानेकेलिएसेक्टर-15एस्थितविद्यामंदिरपब्लिकस्कूलद्वाराकिएगएउपायअन्यस्कूलोंकेलिएनजीरहैं।प्रधानाचार्यआनंदगुप्ताकेनिर्देशनमेंबेहदकारगरउपायकिएगएहैं।कमेटीमेंशामिलकियागयाहैपरिजनोंको

स्कूलमेंएककमेटीबनाईगईहै,जोकिपूरीतरहबालयौनशोषणरोकनेकेलिएसमर्पितहै।इसकमेटीमेंस्कूलकेअध्यापकोंकेसाथहीपरिजनोंकोभीशामिलकियागयाहै।समितिकीहरमहीनेबैठकहोतीहै।बैठकमेंइनमामलोंकोरोकनेकेलिएकारगरउपायोंपरचर्चाहोतीहै।कमेटीमेंअधिकतरमहिलाअध्यापकोंवपरिजनोंकोशामिलकियागयाहै।अगरकिसीबच्चेकोकहींकोईसमस्याहैतोवहकमेटीकेकिसीभीसदस्यकेसामनेअपनीबातरखसकताहै।उसपरतुरंतकार्रवाईहोतीहै।यहटीमलगातारविद्यार्थियोंसेसंवादभीबनाएरखतीहै।स्कूलहीनहींस्कूलकेबाहरभीहोनेवालेकिसीभीदु‌र्व्यवहारकेबारेमेंविद्यार्थीइसटीमकोबतासकताहै।काउंसलर्सकीनियुक्ति:

काउंसलर्सकीनियुक्तिकीगईहै,जोकिअलग-अलगकक्षाकेबच्चोंकेसाथलगातारसंवादकरतेहैं।बच्चोंकोगुड-टचबैड-टचकेबारेमेंबतायाजाताहै।साथहीउन्हेंसमझायाजाताहैकिअगरउनकेसाथस्कूल,घरयाघरकेआसपासकिसीभीजगहकुछगलतहोरहाहैतोउसकीतुरंतजानकारीदें।बच्चेकोविश्वासदिलायाजाताहैकिस्कूलपूरीतरहउसकेसाथखड़ाहोगा।गुड-टचबैड-टचकेबारेमेंछोटीकक्षाकेसभीअध्यापकोंकोसमझायागयाहै।वेकक्षामेंलगातारबच्चोंकोइसकेबारेमेंजागरूककरतेहैं।स्कूलकेसभीअध्यापकोंकोप्रशिक्षणदियागयाहैकिअगरकिसीबच्चेकेसाथकुछगलतहोरहाहैतोउसकीपहचानकैसेकरें।स्कूलमेंअध्यापनसेलेकरप्रशासनिककार्योंमेंज्यादातरमहिलास्टाफकोतवज्जोदीगईहै।पूरास्कूलसीसीटीवीकीजदमें:

सभीकक्षाओंकेसाथहीपूरेस्कूलकोसीसीटीवीकीनिगरानीमेंरखागयाहै।उनकीहरसमयमॉनिट¨रगहोतीरहतीहै।स्कूलमेंआगंतुकोंकीपूरीजानकारीरखीजातीहैऔरबिनाविजिटरपासकेकोईभीबाहरीव्यक्तिस्कूलमेंअंदरनहींजासकता।स्कूलमेंशिकायतपेटिकाभीबनाईगईहै,अगरकिसीबच्चेकोकोईसमस्याहैतोवहअपनीबातलिखकरउसमेंडालसकताहै।सभीबसोंमेंमहिलाअटेंडेंटकीनियुक्तिकीगईहै।बालयौनशोषणएकबेहदगंभीरमुद्दाहैलेकिनसतर्कतासेइससेआसानीसेनिपटाजासकताहै।सभीस्कूलोंकोअपनीतरफसेपूरेप्रयासकरनेचाहिएकिबच्चेसुरक्षितरहें।हमलगातारनए-नएउपायोंपरविचारकरतेरहतेहैं।

-आनंदगुप्ता,प्रधानाचार्य,विद्यामंदिरपब्लिकस्कूल।

By Doyle