कौशांबी:वर्तमानपरिवेशमेंविकाससड़कोंकेमाध्यमसेहीगांवमेंआताहै।यहपरिकल्पनाजितनीसार्थकहै।इसकेपरिणामभीउतनेकीघातकहैं।आजशायदहीकोईगलीमोहल्लाऐसाहोजहांहादसेनहुएहों।इनहादसोंमेंलोगोंकीजानजाना,दिव्यांगताआनाआमबातहोगईहै।हादसेकासीधाअसरउनलोगोंपरहोताहै,जिन्होंनेअपनेपरिवारकेकिसीव्यक्तिकोखोयाहै,लेकिनइसकाअप्रत्यक्षहानिपूरेराष्ट्रकोहोतीहै।एकव्यक्तिदेशकेविकासमेंसहायकहोताहै।यदिवहनहींरहातोदेशकेविकासमेंउसकेयोगदानकीभरपाईनहींहोसकी।

मानवसंसाधनकिसीदेशकेलिएबहुतहीअमूल्यहोताहै।लोगोंकेद्वाराकियागयाकार्यदेशकेविकासमेंसहायकहोताहै।सड़केंविकासकोगतिदेनेकाकामकरतीहैं,लेकिनइनसड़कोंपरलापरवाहीहुईतोयहलोगोंकीजानपरबनपड़तीहै।इनहादसोंकेशिकारहुएलोगजहांएकओरअपनादेशकेलिएयोगदाननहींदेपातेवहींपरिवारकाविकासभीकईसालपीछेचलाजाताहै।स्वजनोंकेपासकेवलहादसेमेंअपनोंकोखोनेकागमहीरहजाताहै।इनहादसोंमेंकमीकेलिएलगातारअभियानचलाकरलोगोंकोजागरूककियाजाताहै,लेकिनइसकेबादभीकहीनकहीलापरवाहीहोतीहैऔरहादसेलगातारबढ़रहेहैं।हमकौशांबीकीबातकरेंतोयहांहादसोंमेंजानगंवानेवालोंकीसंख्याकिसीअन्यजिलेकीअपेक्षाकमनहींहै।बीतेतीनसालोंमें936हुएहैं।इनहादसोंमें536लोगोंनेअपनीजानगवाईहै।663लोगहाथ-पैरतुड़वाकरअपनाउपचारकराचुकेहैं।दिव्यांगहोनेवालोंकीसंख्याभी65केआस-ासहोगी।जिलेकेमाध्यसेकरीब45किमीनेशनलहाईवेहै।ऐसेमेंयहांसेप्रतिदिनहजारोंकीसंख्यामेंवाहनगुजरतेहैं।दोपहियावचारपहियावाहनभीहाइवेसेहोकरगुजररहेहैं।स्थानीयलोगहाइवेकाप्रयागअपनेप्रतिदिनकीयात्राकेलिएकरतेहैं।ऐसेमेंहादसोंकीसंख्याअधिकरहतीहै।ठंडकेमौसममेंधुंधकेकारणयात्राकरनासुलभनहींहोता,ऐसेमेंलोगजरूरतकेअनुसारयात्राकेलिएमजबूरहोतेहैं।इनयात्राकेदौरानअक्सरवहहादसेकाशिकारहोजातेहैं।हादसेमेंखोयापतितोअबजीवनहोगयासूना

कसेंदानिवासीशांतीदेवीकेपतिभोलाकरीबएकसालपहलेगांवकेबाहरसेगुजरीसड़कपरहादसेकाशिकारहोगएथे।उनकीमौतकेबादपत्नीघरपरअकेलीरहगई।परिवारमेंपत्नीकेअलावादोभाईऔरमांथी।जोअबअलगरहतीहैं।ऐसेमेंशांतीदेवीअकेलेजीवनयापनकररहीहैं।कोईसंताननहोनेकेकारणउनकीसूनाघरखानेकोदौड़ताहै।पतिकेपारंपरिककार्यसिलाईकरतेहुएगुजरबसरकररहीहैं।बीतेतीनसालमेंहुईहादसे

वर्षहादसेमौतघायल

----सतर्करहेदूल्हे,घोड़ोंमेंहोसकताहैग्लैंडर्स

कौशांबी:वैवाहिककार्यक्रमकीतैयारियांचलरहीहैं,25नवंबरसेशुभलग्नभीहै।शादीकेसमयघोड़ेपरबैठनेवालेदूल्हेसतर्करहें,क्योंकिघोड़ोंमेंग्लैंडर्सएवंफार्सीनामकावायरसतेजीसेफैलरहाहै,जोलाइलाजहै।ठंडकेमौसममेंइसकाअसरअधिकहोताहै।वायरसकेजरिएयेबीमारीघोड़ोंसेइंसानोंमेंपहुंचतीहै।हालांकिइसबीमारीसेबचावकेलिएपशुपालनविभागप्रयासरतहै।

25नवंबरसेशादियांशुरूहोरहीहैं।अधिकतरदुल्हेद्वारपूजाकेसमयघोड़ेपरचढ़करपहुंचतेहैं।दूल्होंकायेशौककहीउनकेलिएघातकनहो।ग्लैंडर्सकावायरसघोड़ोंसेइंसानोंमेंपहुंचताहै।हरमाह20घोड़ोंकेसीरमकोजांचकेलिएलैबभेजाजाताहै।मुख्यपशुचिकित्साधिकारीडॉ.बीपीपांडेयनेबतायाकिघोड़ेवगधोंमेंग्लैंडर्सएवंफार्सीबीमारीतेजीफैलतीहै।ठंडकेमौसममेंइसकाअसरअधिकहोताहै।बीमारीसेपीड़ितपशुओंसेनिकलनेवालेवायरसमनुष्योंकोभीबीमारकरतेहै।इसबीमारीसेघोड़ोंकोबचानेकेलिएपशुपालकोंकोजागरूककियाजारहाहै।पशुचिकित्सकवपशुधनप्रसारअधिकारीघोड़ेवगधेपालनेवालोंकेसंपर्कमेंरहतेहैं।हरमाहघोड़ेवगधोंकासीरमहरियाणाकीलैबमेंजांचकेलिएभेजाजाताहै।

पिछलेवर्षचारगधोंमेंहुईथीपुष्टि

मुख्यपशुचिकित्साधिकारीडॉ.बीपीपाठकनेबतायाकिपिछलेवर्षसरसवांकेएकईंटभट्ठेकेचारगधोंमेंग्लैंडर्सकीपुष्टिहुईथी।जिसपशुपालककेमवेशीथे।वहजालौनकेथे।जानकारीहोनेकेबादवहगधोंकोलेकरजालौनचलेगएथे।वहांइंजेक्शनदेकरचारगधोंकोमौतकेघाटउतारागयाहै।वर्ष2018-19मेंसिराथूकेइचौलीगांवमेंएकघोड़ीमेंग्लैंडर्सएवंफार्सीबीमारीपुष्टिहुईथी।उसेइंजेक्शनलगाकरमौतकेघाटउतारदियाजाताहै।

By Elliott