शिवहर,पिपराही,मनोजकुमार:घरकेछतठीकठाकपरनीचेकापूराहिस्सागायब।हरघरआंगनमेंकरीबअभीभीदोसेतीनफीटपानीजमाहै।चापाकलपाईपसमेतगायबहैं,तोकुछउखड़ेपड़ेहैं।अबदूर-दूरसेपीनेकेपानीकोलानेकीविवशता।जीहांयहहालजिलेकेसर्वाधिकबाढ़प्रभावितबेलवापंचायतकेनरकटियागांवकाहैं।जहांप्रभाविततकरीबनएकहजारकीआबादीबाढ़सेतबाहीकेबादसरकारसेउम्मीदोंकीटकटकीलगाएबैठीहै।यहांचाहेबैजूसहनीहोयामनोजसहनीयाजग्रनाथसहनीसभीकाएकसाहींहाल।बाढ़नेइनकासबकुछलीललियाहै।

-अबतकबनरहासिर्फलिस्ट

बाढ़कोआएऔरगएकरीबएकपखवारेगुजरनेकोहै।लेकिन,अबतकचापाकलकालिस्टहीतैयारहोरहाहै।शुद्धपानीकबमिलेगीपतानहीं।हांपीएचडीविभागनेक्षतिग्रसतचापाकलोंकोतोठीककियाथा।लेकिन,जोपूरीतरहसेउखड़गयाउसकाक्याहोगा?अभीभीनकदीसहायताकीराशिसर्वेवकंप्यूटरकेअपलोडप्रक्रियामेंउलझाहुआहै।जिलाधिकारीराजकुमारकेपहुंचनेकेबादलोगोंकीउम्मीदेंजगीकिहाकिमआएहैंतोकुछस्थितिमेंबदलावहोगी।सभीनेसाहबकोअपनीव्यथाभीसुनाई।कहाकिदोकिलोचुरावचावलसेकबतककामचलेगा।कुछउपायकिजिए।डीएमनेकहाकिशीघ्रहींसभीकेखातेमेंउचितराशिभेजीजाएगी।उन्होंनेनेपीएचडीवस्वास्थविभागकेअधिकारियोंकोकईअहमनिर्देशदिए।

-सर,कबआएगीबिजली

बाढ़सेबिजलीकेखंभेवतारपूरीतरहसेक्षतिग्रस्तहोगएहैं।ग्रामीणोंनेविरोधजतातेहुएजिलाधिकारीसेकहाकिसरकारदसरुपयेदेकरमोबाइलचार्जकरारहेहैं।बिजलीतोठीककराएं।डीएमनेतुरंतविभागकोकार्यशुरूकरनेकानिर्देशदिया।वहींलोगोंमेंआसजगीहैकिजिलाधिकारीकेआनेकेबादउनकाजनजीवनपटरीपरलौटेगा।

-लगारहेहैपीड़ितोंकोआश्वासनकामरहम

यहांकेबाढ़पीड़ितकीमानेतोअधिकारियोंकेसाथ-साथजनप्रतिनिधितोआजारहेहैं।राहतकेनामपरकभीचुड़ातोकभीकुछमात्रामेंचावलभीप्रशासनिकस्तरपरमिलरहाहै।लेकिन,हमारीउत्पन्नजीवनयापनकीसमस्याकेनिदानकेलिएमहजआश्वासनकेमरहमहीलगारहेहैं।हकीकतमेंवादेजमीनपरनहींउतररहेहैं।