देवरिया:भाटपाररानीकाआयुर्वेदचिकित्सालयसमस्याओंकाअंबारलिएखड़ाहै।अस्पतालमेंनतोचिकित्सककीतैनातीहैऔरहीपर्याप्तदवाएंहैं।इलाजकरानेआएमरीजयहांचिकित्सककोपूछकरवापसलौटजातेहैं।इसतरफकिसीकाध्याननहींहै।

दोचिकित्सालयकाभवनजर्जरहोचुकाहै।ऐसेमेंकभीभीबड़ाहादसाहोसकताहै।मरीजभीयहांआनेसेकतरानेलगेहैं।कस्बेमेंखुलेराजकीयआयुर्वेदिकचिकित्सालयकेपासअपनाभवननहींहै।यहपूर्वमेंबनेमालवीयशिक्षणसंस्थानभाटपाररानीकेभवनमेंचलरहाहै।इसकीहालतइतनीखराबहैकिछतकईस्थानोंसेउखड़चुकीहैऔरकबगिरजाएइसकाभीकोईभरोसानहींहै।अस्पतालमेंदोबेडभीइसलिएस्वीकृतकिएगएथेकियहांआनेवालेमरीजोंकोभर्तीकरइलाजकियाजाएगा।दोनोबेडपूरीतरहसेकबाड़मेंतब्दीलहोगएहैं।अबसिर्फ2से5मरीजहीयहांहररोजआरहेहैं।यहांतीनलोगोंकीवर्तमानमेंतैनातीहै,जिसमेंएकफार्मासिस्टसुरेशप्रसादववृतसंतोषमौजूदथे।प्रभारीकेरूपमेंकामदेखरहेफार्मासिस्टसुरेशप्रसादकाकहनाहैयहां23सालसेकिसीचिकित्सककीतैनातीनहींहुईहै।वहकईबारउच्चाधिकारियोंकोलिखितरूपसेजानकारीदेचुकेहैं।उन्होंनेस्वीकाराकिअस्पतालकाभवनपुरानाऔरजर्जरहोनेकीवजहसेमरीजोंकोदवादेकरवहभेजदेतेहैं।अस्पतालमेंउन्हेंरोकनेपरडरलगताहै।

By Ellis