संवादसहयोगी,दाउदनगर(औरंगाबाद)।मार्च2020मेंकोविड-19कोलेकरदेशमेंलाकडाउनकीप्रक्रियाशुरूहुईथी।दूसराचरणचलरहाहैऔरवैश्विकमहामारीकेतीसरेचरणकेआनेकीसंभावनाव्यक्तकीजारहीहै।इसबीचस्वास्थ्यसुविधाओंकाकुछहदतकविस्तारतोहुआ,लेकिनजबचिकित्सकहीनहींरहेंगेतोइनसुविधाओंकाभीकोईमतलबनहींरहजाता।

मार्च2020मेंजहांअनुमंडलअस्पतालदाउदनगरमेंआठचिकित्सकथे।वहींअभीमात्रचारचिकित्सकरहगएहैं।इसमेंभीस्थितियहहैकितीनमहिलाचिकित्सकहैं।जिसमेंदोस्त्रीएवंप्रसूतिरोगविशेषज्ञहैं।एकएमबीबीएसऔरएकपुरुषचिकित्सकडा.राजेशकुमारसिंहबतौरउपाधीक्षकपदस्थापितहैं।किसीभीसमयमरीजआनेपरइन्हेंदेखनापड़ताहै।

कोविड19केहीदौरमेंयहांएकनया100केवीएकाट्रांसफार्मरलगायागया।जिसकारणलोवोल्टेजकीसमस्यासेअनुमंडलीयअस्पतालकोमुक्तिमिली।20फाउलरबेडअतिरिक्तमिलाऔरइससेसंबंधितअन्यसामग्रीभी।इसकेअलावायहांएनसीडीक्लीनिकयानीगैरसंचारीरोगक्लीनिकखोलागयाहै,जिसमेंप्रत्येकशुक्रवारकोजिलामुख्यालयसेएकसंबंधितचिकित्सकआकरमरीजोंकोसेवादेतेहैं।इसकेअलावायहांफिजियोथैरेपीकीसुविधाभीउपलब्धकराईगईहै।बुनियादीआवश्यकतावालीतमामसुविधाएंइसफिजियोथैरेपीमेंउपलब्धहै।यहांमात्रवरिष्ठस्त्रीएवंप्रसूतिरोगविशेषज्ञडा.अंजूएवंडा.रश्मिकुमारीऔरएमबीबीएसडा.स्नेहकिरणहीकार्यरतहैं।

18अगस्तसेशुरूहोसकताहैआक्सीजनप्लांट

कोविड-19केदौरसेपहलेयहांआक्सीजनकीसुविधासमितिथी।अबआक्सीजनपाइपलाइनलगाहै।आक्सीजनकंसंट्रेटर4मिला,30सिलेंडरमिलाहै।अब100लीटरप्रतिमिनटआपूर्तिकरनेवालाआक्सीजनप्लांटकानिर्माणहोरहाहै।जिसकेउद्घाटनकीसंभावना18अगस्तकोहै।जिसदिनदेशमेंऐसेकईप्लांटकाउद्घाटनकेंद्रीयमंत्रीनितिनगडकरीकरेंगे।

35कीजगहमात्रचारडाक्टर:डा.राजेश

अनुमंडलअस्पतालकेउपाधीक्षकडा.राजेशकुमारसिंहनेबतायाकियहांचिकित्सकोंके35पदस्वीकृतहैं।कोविड-19केदौरशुरूहोनेकेपहलेयहां8चिकित्सककार्यरतथे।आजमात्रचारहैं।जिसमें3महिलाहैं।अकेलेवेपुरुषचिकित्सकहैंजिन्हेंमरीजोंकेअलावादूसरीतमामसमस्याझेलनीपड़तीहै।यहांजीएनएमके50पदस्वीकृतहै,जबकिमात्र22पदस्थापितहै।डा.राजेशनेबतायाकिकिसीभीतरहकाऑपरेशनहोनायहांबीते4महीनेसेबंदहै।कारणएनेसथीसियाकापदरिक्तहैऔरकोईसर्जनचिकित्सकभीनहींहै।

लगनाहै1000लीटरक्षमताकाआरओ

वैश्विकमहामारीकोदेखतेहुएहीक्षेत्रीयसांसदमहाबलीसिंहनेयहां1000लीटरक्षमताकाआरओप्यूरीफायरलगानेकीअनुशंसाकियाहै।कार्यवाहीचलरहीहै।यहयोजनाप्रक्रियाधीनहै।कबतकलगसकेगायहकोईनहींबतासकता।