आगरा,जागरणसंवाददाता।राष्ट्रीयचंबलसेंक्चुरीमेंदुर्लभप्रजातियोंकेजलीयजीवोंकासंरक्षणवर्ष1979मेंसेंक्चुरीकेबननेकेसमयसेकियाजारहाहै।देशकीअन्यनदियोंमेंप्रदूषणकेबढ़तेस्तरकेचलतेलुप्तहोरहींप्रजातियोंकेदुर्लभकछुओं,मगरमच्छ,घड़ियाल,गांगेयडाल्फिनकाकुनबाबढ़रहाहै।कछुओंकातोइससमयहैचिंगकासमयचलरहाहै।इनमेंसालकछुआऐसाहै,जोकहींऔरनहींमिलताहै।

चंबलनदीराजस्थान,मध्यप्रदेशऔरउप्रमेंहोकरबहतीहै।यहांबाहमेंचंबलसेंक्चुरीमेंलुप्तप्रायकछुओंकीआठप्रजातियोंकासंरक्षणकियाजारहाहै।इनमेंसालकछुआप्रमुखहै।यहकेवलचंबलनदीमेंहीसिमटकररहगयाहै।प्रदूषणकेचलतेअन्यनदियोंसेइसकाअस्तित्वमिटचुकाहै।सालकछुएकाबाहरीकवचकठोरऔरपूरीतरहअस्थियोंसेबनाहोताहै।नरकछुएमादासेआकारमेंछोटेऔरआकर्षकहोतेहैं।यहस्वभावसेशर्मीलेवसरलहोतेहैं।सालकछुआशाकाहारीहोताहैऔरनदीवतालाबकीसड़ी-गलीवनस्पतिखाकरपानीकोसाफकरताहै।सालकेअलावाबटागुर,धमोक,चौड़,मोरपंखी,कटहेवा,पचेड़ा,इंडियनस्टारकछुएचंबलसेंक्चुरीमेंपाएजातेहैं।

चंबलसेंक्चुरीकेरेंजरआरकेसिंहराठौरनेबतायाकिबाहसेइटावातककरीबछहहजारकछुएचंबलमेंहैं।इनमेंसेबाहमेंही3500कछुएहैं।हैचिंगकेबादइनकीसंख्यामेंऔरवृद्धिहोगी।

यहकछुएभीमिलतेहैंयहां

मोरपंखी:मोरपंखीकछुओंकाकवचमांसपेशियोंसेबनाहोनेकेकारणमुलायमहोताहै।नरकछुआमादासेआकारमेंबड़ाऔरस्वभावसेआक्रामकहोताहै।यहनदीवतालाबमेंमरेसड़े-गलेजीव-जंतुओंकोखातेहैंऔरजलस्वच्छकरतेहैं।

कटहेवा:कटहेवाकछुआकेकवचपरगोलेबनेहोतेहैं।यहकछुए94सेमी.तकबड़ेहोसकतेहैं।

पचेड़ा:पचेड़ाकछुओंकीआंखोंकेनीचेभूरेवलालरंगकेडाट्सहोतेहैं।मादाकछुआपुरुषसेबड़ीहोतीहै।इनकाकवचटेंटकीतरहहोताहै।

इंडियनस्टार:यहकछुआभारत,पाकिस्तानऔरबांग्लादेशमेंपायाजाताहै।अन्यकछुओंकीअपेक्षायहबहुतअधिकसुंदरहोताहै।इसकेकवचपरचमकदारभालेकीतरहडॉट्सहोतेहैं,जोस्टारकीतरहदिखतेहैं।इसकछुएकेप्रतिअंधविश्वासअधिकहैऔरलोगइसकाइस्तेमालजादू-टोने,नशीलीदवाओंकेउत्पादनमेंकरतेहैं।

By Dunn