बस्ती:ठंडकाप्रचंडस्वरूपअबसितमढानेलगाहै।प्रकोपऐसाकिजिलाभीठिठुरनेलगाहै।बुधवारकोठंडलोगोंकीकंपकपीछुड़ातीरही।आनेवालेदिनोंमेंठंडअभीऔरपरेशानकरेगी।सुबह-शामसेलेकरपूरीरातकोहरेकाकहरहै।जरूरीकार्यसेहीलोगबाहरनिकलरहेहैं।

सर्दहवाओंकेबीचठंडकाकहरजारीरहा।धुंधऔरकोहरेकेआगेसूर्यदेवकीभीनहींचली।दिनमेंएकबजेकेबादहल्कीधूपखिली,लेकिनगलनसेराहतनहींमिलपाई।मौसमकीमारमजदूरतबकेपरभारीपड़रहीहै।मेहनतकशलोगइसमौसममेंकामनहींकरपारहेहैं।कुछहीदेरबाहररहनेपरआगऔरअलावकीजरूरतमहसूसहोरहीहै।जहांभीआगजलरहीहैवहांलोगअपनेआपइकट्ठेहोजारहेहैं।शहरमेंरिक्शा,आटो,ठेलाचालकएवंअन्यमजदूरवर्गइधर-उधरपहुंचकरशरणलेरहेहैं।बुजुर्गोंकीभीहालतपतलीहै।अलावकेसहारेउनकासमयबीतरहाहै।

सड़कपरदिखासन्नाटा

ठंडकीवजहसेसड़कोंपरसन्नाटाछायाहुआहै।दिनमेंभीचहल-पहलसामान्यदिनोंकीतरहनहींदिखी।रातकेसमयवाहनोंकेपहिएथमजारहेहैं।घनेकोहरेमेंरास्तानहींसूझरहाहै।बमुश्किललोगगंतव्यपरपहुंचरहेहैं।

अगलेदिनकासंभाविततापमान

दिनअधिकतमन्यूनतम