जोधपुर,जेएनएन। राजस्थानहाईकोर्टनेजिलाशिक्षाधिकारीकोपाबंदकरतेहुएस्कूलप्रशासनद्वाराबेवजहटीसीनहींरोकेजानेकीबातकहीहै।राजस्थानहाईकोर्टनेनिजीविद्यालयद्वाराविद्यार्थियोंकेस्थानांतरणप्रमाण-पत्र(टीसी)जारीनहींकरनेकेमामलेमेंसुनवाईकरतेहुएकहाहैकिस्कूलप्रशासनबेवजहटीसीनहींरोकसकताहै।

पालीकेरेनबोसीनियरसेकेंडरीपब्लिकस्कूलकीछात्रादिव्यांशीराठौड़,आदित्यराठौड़औरकशिशराठौड़कीओरसेराजस्थानहाईकोर्टकेअधिवक्तारजाकके.हैदरऔरपंकजसाईंनेरिटयाचिकादायरकरकहाकिउन्होंनेअपनी-अपनीकक्षाएंउत्तीर्णकरलीहैंऔरवहवर्तमानसत्रमेंइसविद्यालयमेंआगेअध्ययननहींकरनाचाहते।अन्यत्रअध्यापनकेलिएउन्होंनेस्कूलसेस्थानांतरणप्रमाणपत्र(टीसी)जारीकरनेकीमांगकीतोस्कूलनेटीसीजारीनहींकी।नोटिसदेनेकेबादअंतत:उन्होंनेशिक्षाविभागऔरस्कूलकेखिलाफरिटयाचिकादायरकी।

याचिकाकर्ताकेवकीलनेकहाकिटीसीप्राप्तकरनाविद्यार्थीकाअधिकारहै।स्कूलप्रशासनद्वाराटीसीरोकनाउसेशिक्षासेवंचितकरनेकाप्रयासहै।जोकिअसंवैधानिक,अविधिकऔरमनमानापूर्णकृत्यहै।स्कूलप्रशासनन्यायालयऔरशिक्षाविभागनिदेशालयद्वारासमय-समयपरजारीदिशा-निर्देशोंकीखुलीअवहेलनाकररहाहै।

जिसपरसुनवाईकेबादन्यायाधीशदिनेशमेहतानेजिलाशिक्षाअधिकारी(माध्यमिक)पालीकोपाबंदकियाकिवहयहसुनिश्चितकरेकिस्कूलप्रशासनबेवजहविद्यार्थियोंकास्थानांतरणप्रमाणपत्रनहींरोके।हाईकोर्टनेविद्यार्थियोंकीसमस्याकाअविलंबसमाधानकरनेकेभीआदेशदिए।

राजस्थानकीअन्यखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

By Dyer