जागरणसंवाददाता,जींद:विश्वचैंपियनयोगाचार्यजोरासिंहआर्यनेकहाकिटिटिभासनसेहाथ-पैरतथाकंधोंकीमांसपेशियांसशक्तबनतीहैं।बज्जरकेसामानशक्तिशालीहोजातीहैं।हड्डियोंमेंभीलचीलापनआजाताहै।फेफड़ेमजबूतहोनेसेश्वाससंबंधीविकारदूरहोजातेहैं।मानसिकएकाग्रताबढ़तीहैऔरसॉरीसंतुलनशारीरिकसंतुलनकायमरहताहै।यहआसनकरतेसमयसीधेखड़ेहोतेहुएपैरोंकोघुटनोंसेमोड़करनितंबोंकेसहारेसामान्यअवस्थामेंबैठजाएं।दोनोंहाथोंकेहथेलीकोजमीनसेडेढ़फुटकेअंतरपररखलेंदाएंपैरकोसीधाकरतेहुएदाएंकंधेकेऊपररखें।बाएंपैरकोबाएंकंधेकेऊपरकेरखेंअबदोनोंहाथोंकेऊपरशरीरकासंतुलनबनातेहुएशरीरकोसीधाऊपरउठालें।दोनोंपैरोंकोपंखोंकीतरहबाहरकीऔरनिकाललें।²ष्टिकोसामनेकीओररखें।यहसावधानीरखेंकिजिसेकंधे,पेट,पैर,गर्दनयाकिसीभीरोगसेपीड़ितहो,उन्हेंयहआसनविशेषज्ञकीदेखरेखमेंकरनाचाहिए।

By Evans